भारतीय मानवाधिकार परिवार वाराणसी के ओर से मानवीय संवेदनशीलता विषय पर कार्यशाला सम्पन्न

भारतीय मानवाधिकार परिवार वाराणसी द्वारा मानवीय संवेदनशीलता विषय पर कार्यशाला सम्पन्न हुई. कार्यक्रम के मुख्य अतिथि भाजपा के सह मीडिया प्रभारी अरविंद मिश्र ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि किसी भी संगठन या खासकर मानवाधिकार परिवार के लिए यह आवश्यक है कि प्रत्येक सदस्य में संवेदनशीलता अपने घर और पड़ोस से प्रारंभ हो. उन्होने कहा कि मानवीय संवेदनाओं के साथ हर सदस्य को एक कार्यकर्ता के रूप में अपने लक्ष्य को ध्यान में रखकर निःस्वार्थ भाव से कार्य करना चाहिए. यह परिवार रचनात्मक, विकासात्मक सोच के साथ गांव से शहर तक के लोगों तक सेवा से लाभ पहुंचाना चाहिए.

कार्यशाला की अध्यक्षता कर रहे मानवाधिकार परिवार के स्वास्थ्य सेल के राष्ट्रीय सचिव डा.बी.एन.रॉकी ने मानवधिकार के बारे में विस्तृत जानकारी दिया तथा बताया कि किस प्रकार से हर कार्यकर्ता को नि:स्वार्थ भाव से तथा कानून का पालन करते हुए देश एवं समाज के लोगों के लिए कार्य करना चाहिए.

कार्यशाला के आयोजक तथा कुशल संचालक वाराणसी मंडल के महासचिव डा भास्कर शुक्ल रहे. उन्होने संगठन में लोगों के जुड़ने तथा समाज सेवा के लिए लोगों को प्रेरित किया. कार्यशाला में संरक्षक के तौर पर प्रोफेसर सदानंद शुक्ल जी ने अपने आशीर्वचन दिए.

कार्यक्रम के दौरान उपस्थित अन्य सदस्यों में डा० विजय कांत सिंह, चारूलता सिन्हा, रामपाल सिंह, डा० मनोज कुमार, शशिभूषण त्रिपाठी, श्याम आसरे, डा० इस्तियाक अली, डा० सत्यप्रकाश, परदेशी , ताहिर सैम, आसिफ आदि प्रमुख रहे.