लोगों को पानी के महत्व के प्रति जागरूक करने के लिए वल्लभ विद्यापीठ के विद्यार्थियों ने चलाया जागरूकता अभियान, ली जल संरक्षण की शपथ

वाराणसी. जल संरक्षण को बढ़ावा देने के उद्देश्य से सामाजिक संस्था सुबह-ए- बनारस क्लब के बैनर तले भैरवनाथ स्थित श्री वल्लभ विद्यापीठ बालिका इंटरमीडिएट कॉलेज के छात्राओं ने पानी की महत्ता को दर्शाने के लिए जागरूकता अभियान चलाया.

संस्था के अध्यक्ष मुकेश जायसवाल, लक्ष्मी हॉस्पिटल के प्रबंध निदेशक डॉ अशोक कुमार राय, कॉलेज की प्रधानाचार्या डॅा मुक्ता पांडे, महासचिव राजन सोनी, उपाध्यक्ष समाजसेवी अनिल केसरी के नेतृत्व में यह अभियान चलाया गया. छात्राओं ने हाथ में बिन पानी सून घड़ा जैसे लिखे स्लोगन की तख्तियां लिए पानी की कमी से होने वाले गंभीर कष्ट कारक समस्या व पानी के महत्व को दर्शाया.

श्री वल्लभ विद्यापीठ बालिका इंटरमीडिएट कॉलेज की प्रधानाचार्या डॅा मुक्ता पांडे ने बताया कि बच्चों को जल सरंक्षण करने के लिए एक जगारूकता अभियान चलाया गया है. जल संरक्षण करने के लिए आज बच्चों को शपथ दिलाया गया और उन्हें जागरूक किया गया. जिससे आने वाली भावी पीड़ी जल पानी को बचाने के लिए सचेत हो जाए, क्योंकि लगातार भू-जलस्तर गिरता जा रहा. बच्चे ही देश का भविष्य है अगर उन्हें जागरूक किया गया तो जल को संरक्षित किया जा सकता है.

इस अवसर संस्था के अध्यक्ष मुकेश जायसवाल, लक्ष्मी हॉस्पिटल के प्रबंध निदेशक डॉ अशोक कुमार राय, महासचिव राजन सोनी, व उपाध्यक्ष समाजसेवी अनिल केसरी, ने कहा कि आए दिन देखने को मिलता है कि लोग बेवजह पानी की बर्बादी हो रही हैं, जबकि पानी ही उनके जीवन का आधार है. इस मर्म को समझने के साथ जल संरक्षण की ओर एक सकारात्मक पहल करना होगा और भावी पीढ़ी के लिए पानी का संचय करना होगा.

उन्होंने आगे कहा कि देशवासियों को यह संकल्प लेना होगा, कि वह जल संरक्षण को अपना दिनचर्या का हिस्सा बनाएंगे और किसी भी स्थिति में शुद्ध पेयजल को बर्बाद नहीं होने देंगे. साथ ही अपनी नैतिक जिम्मेदारी समझते हुए लोगों के बीच पानी बर्बाद ना करने की अपील के साथ मुहिम छेड़ेगे.

कार्यक्रम में मुख्य रूप से मुकेश जायसवाल, डॉ अशोक कुमार राय, डॅा मुक्ता पांडे, राजन सोनी, अनिल केसरी, कोषाध्यक्ष नंद कुमार टोपी वाले, नीचीबाग व्यापार मंडल के अध्यक्ष प्रदीप गुप्त, सचिव सुमित सर्राफ, सहित सैकड़ों छात्राएं शामिल थी.