राहत की खबर: तेजी से घट रहा गंगा के बाढ़ का पानी, वार्निंग लेवल से 71 सेमी दूर

गंगा के तटवर्ती इलाकों में रहने वाले लोगों के लिए राहत की खबर है. अब गंगा का जलस्तर तेजी से घटना शुरू हो गया है. वाराणसी में गंगा वार्निंग लेवल से अब 71 सेंटीमीटर दूर हैं. वहीं, खतरे के निशान से 1 मीटर 71 सेंटीमीटर. सोमवार से गंगा के उफान में दो दिन से थोड़ी सी स्थिरता आई है. हालांकि, अस्सी घाट से लेकर नमो घाट तक पूरी तरह गंगा में जलमग्न हो गए हैं.

केंद्रीय जल आयोग की रिपोर्ट के अनुसार, सोमवार सुबह 6 बजे तक गंगा का वाटर लेवल 69.74 मीटर पहुंचा, सुबह 8 बजे तक यह 69.71 मीटर और दोपहर के 2 बजे तक 69.55 मीटर पहुंच गया. रविवार के मुकाबले गंगा के जलस्तर में 22 सेंटीमीटर की कमी दर्ज की गई है. रविवार को जलस्तर 69.77 मीटर था.

गंगा का पानी अब बस्तियों, किनारे के घरों और कॉलोनियों में घुस रहा है. अस्सी घाट की गंगा आरती अब गली में हो रही है. वहीं, मणिकर्णिंका और हरिश्चंद्र घाट के शवदाह स्थल अब गलियों और छतों पर शिफ्ट हो गए हैं. वाराणसी में गंगा घाट पर स्थित कई मंदिर जलमग्न हो गए हैं. घाटों पर गंगा स्नान के लिए अब जगह नहीं बची है. वाराणसी गंगा का जलस्तर बढ़ने से बोटिंग राइड और क्रूज के संचालन पर रोक लगा दी गई है.

ये भी पढ़ें: मां हिंगलाज भवानी के इस मंदिर में हिन्दू संग मुस्लिम भी करते हैं पूजा, मुस्लिम यहां आकर करते हैं ‘हज’ महिलाएं कहलाती हैं ‘हाजियानी’

24 अगस्त को बारिश के आसार

मौसम विज्ञान विभाग ने 24 अगस्त को ठीक-ठाक बारिश का अनुमान लगाया है. वहीं 23 अगस्त को मौसम पूरी तरह साफ रहेगा. मौसम विभाग का आकलन है कि आज भी बादल छाए रहेंगे. BHU के मौसम वैज्ञानिक, प्रोफेसर मनोज कुमार श्रीवास्तव का कहना है कि दो दिन बाद वाराणसी में बारिश होने की प्रबल उम्मीद है.