13 दिसंबर को श्री काशी विश्वनाथ धाम कॉरीडोर का उद्घाटन करेंगे पीएम मोदी, तैयारियां ज़ोरों पर

बाबा महादेव की नगरी वाराणसी में श्री काशी विश्वनाथ धाम के उद्घाटन की तैयारियां ज़ोरों पर है. 13 दिसंबर को अपने वाराणसी दौरे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बाबा धाम का उद्घाटन करने वाले हैं. वाराणसी में काशी विश्वनाथ मंदिर का विस्तार अब अपने अंतिम चरण में पहुंच गया है. काशी विश्नाथ कॉरिडोर पीएम नरेंद्र मोदी ड्रीम प्रोजेक्ट है. कॉरिडोर को रंग-बिरंगे लाइटों से सजाया जा रहा है. पहले भगवान काशी विश्वनाथ मंदिर का परिसर 5,000 वर्ग फुट से कम क्षेत्र में फैला था, लेकिन अब इसका क्षेत्रफल 5 लाख 27 हजार 730 वर्ग फुट हो गया है. श्रद्धालुओं की सुविधाओं को देखते हुए यहां कई भवनों का निर्माण किया गया है. इसके साथ ही 27 मंदिरों की मणिमाला भी बनाई गई है.

भगवान शिव के प्रिय वृक्षों से सजेगा दरबार

इसके अलावा गंगा घाट से मंदिर परिसर तक भगवान शिव का प्रिय वन विकसित किया जा रहा है. इस अनूठे आनंद कानन में भगवान शिव के प्रिय वृक्षों की श्रृंखला चुनार के लाल बलुआ पत्थरों के बीच हरियाली बिखेरेगी. गंगा घाट से काशी विश्वनाथ मंदिर के बीच दोनों तरफ रुद्राक्ष, पारिजात, अशोक, बेल और अर्जुन के वृक्षों की श्रृंखला इस वन क्षेत्र की खूबसूरती बढ़ाएंगे. गमलों में बेला, कनेर व मदार-धतूरा के पौधे भी लगाए जाएंगे.

काशी विश्वनाथ कॉरिडोर उद्घाटन की तैयारियां ज़ोरों पर
एक ही छत के नीचे होगा सम्पूर्ण काशी दर्शन

बाबा धाम में निर्माणाधीन आभासी म्यूजियम में गंगा घाट से लेकर यहां के खानपान और गलियों को महसूस किया जा सकेगा. काशी दर्शन की तमन्ना वाले भक्तों के लिए एक छत के नीचे बनारस दर्शन कराया जाएगा जिससे उन्हें सुखद अहसास होगा. काशी विश्वनाथ धाम के लोकार्पण के बाद से ही जलासेन और ललिता घाट पर काशी की विश्वविख्यात गंगा आरती का दर्शन श्रद्धालु कर पाएंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.