Nilgiri Infracity: पूर्व सीएमडी गिरफ्तार, जालसाजी और धोखाधड़ी के दर्ज थे 17 मुकदमे

वाराणसी. जमीन, गोल्ड और टूर पैकेज के नाम पर जालसाजी, धोखाधड़ी और धमकाने के लिए नीलगिरि इंफ्रासिटी कंपनी के पूर्व सीएमडी अभियुक्त संजय प्रजापति को चेतगंज पुलि‍स ने चौकाघाट लकड़ीमण्डी तिराहे से गि‍रफ्तार कर लिया. इस संबंध में डीसीपी वरुणा जोन आदि‍त्‍य लांग्‍हे ने अभि‍युक्‍त को मीडि‍या के सामने प्रस्‍तुत कि‍या. उन्‍होंने बताया कि‍ 2018 से 2021 तक नीलगि‍री इंफ्रासि‍टी ने टाउनशि‍प बनाने के नाम पर बड़ी धोखाधड़ी की थी. इसमें 80 मुकदमे लि‍खे गये थे. इन मुकदमों में 14 आरोपि‍यों में से 5 लोगों को पहले ही गि‍रफ्तार कि‍या जा चुका है. कंपनी का पूर्व सीएमडी संजय प्रजापति‍ सोमवार को हमारे हाथ लगा है. इसके खि‍लाफ थाना चेतगंज में 17 मुकदमे दर्ज हैं और ये काफी दि‍न से वांछि‍त चल रहा था.

इस सम्बन्ध में चेतगंज एसीपी ऑफिस में बात करते हुए DCP वरुणा ज़ोन आदि‍त्‍य लांग्‍हे ने बताया कि पुलिस आयुक्त द्वारा अपराध एवं अपराधियों के विरुद्धचलाये जा रहे अभियान के तहत परमहंस गुप्ता प्रभारी निरीक्षक थाना चेतगंज कमिश्नरेट वाराणसी के कुशल नेतृत्व में थाना चेतगंज पुलिस को महत्वपूर्ण सफलता मिली है. पुलिस ने सोमवार को मुखबिर की सूचना पर वांछित अभियुक्त संजय प्रजापति को गिरफ्तार किया है.

डीसीपी काशी ने बताया कि चेतगंज थाना पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि नीलगिरी से सम्बन्धित मुकदमें का वांछित अभियुक्त संजय प्रजापति इस समय चौकाघाट लकड़ीमण्डी तिराहे पर मौजूद है इस सूचना पर विश्वास करके में प्रभारी निरीक्षक परमहंस गुप्ता मय पुलिस बल लकड़ीमण्डी तिराहे पर पहुंचकर अभियुक्त संजय प्रजापति को घेरकर पकड़ लिया गया.

वांछित अभियुक्त मुकदमा अपराध संख्या 110/21, 143/21,144/21,145/21,288/21 की धारा 419/420/409 आईपीसी व मुकदमा अपराध संख्या 187/21 धारा 419/420/409/504/506 आईपीसी एवं मुकदमा अपराध संख्या 110/21 143/21,14421,145/21,288/21 धारा 419/420/409 आईपीसी सहित 17 मुकदमों में तलाश थी.

अभियुक्त ने पूछताछ में बताया कि उसके द्वारा नीलगिरी इन्फ्रासिटी कंपनी में पूर्व में सीएमडी पद पर रह कर कंपनी का देखरेख का कार्य करता था. पकड़े गए अभियुक्त को सम्बंधित धराओं में जेल भेज दिया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.