पीएम आवास योजना से मिला पैसा, सपा नेता बनने नहीं दे रहे घर, पीड़िता ने कहा, “आवास नहीं बना तो ज़हर खाकर परिवार संग कर लुंगी आत्महत्या”,

रिपोर्ट- मयंक कश्यप

वाराणसी / रामनगर. एक ओर प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री गरीबों को आवास बांट रहे हैं. वहीँ, दूसरी ओर आवास का पैसा मिलने के बाद दबंग लोगों द्वारा गरीबों का घर बनने नहीं दिया जा रहा है. ताजा मामला प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी के रामनगर का है. जहां मजदूरी करके अपने परिवार का भरण-पोषण करने वाली निर्मला देवी का घर नहीं बनने दिया जा रहा.

वाराणसी के पुराना रामनगर स्थित पीड़िता निर्मला देवी जिनकी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है. किसी प्रकार से गरीबी में अपना जीवन यापन करने को मजबूर है. निर्मला देवी दूसरों के घरों में बर्तन माज कर अपने परिवार का भरण पोषण करती है. पीड़िता निर्मला देवी का पूरा परिवार व छोटे-छोटे बच्चे झोपड़पट्टी और गरीबी में अपना जीवन व्यतीत करने को मजबूर है. बीते कुछ दिनों पहले निर्मला देवी को अपना पक्का आवास बनवाने के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत आवास बनवाने के लिए पैसा मिला. पीड़िता निर्मला देवी के पड़ोस में रहने वाले नंदू यादव, बुल्लू यादव जो अपने आप को समाजवादी पार्टी का वरिष्ठ नेता बताते हैं. रामनगर थाना को अपनी जेब में लेकर घूमने की बात कह कर पीड़ित महिला का आवास बनने नहीं दे रहे हैं.

पीड़ित महिला ने बताया कि पुलिस से कई बार शिकायत करने के बाद भी कोई कार्यवाही नहीं हो पा रही है. जिसके कारण दबंगों का मनोबल आए दिन ऊंचा हो रहा है और आते जाते रास्ते मे गाली गलौज करना पीछे से धक्का मार कर निकल जाना धमकी देने जैसी घटनाओं को आये दिन अंजाम देते रहते हैं. जिसके कारण अब मेरा पूरा परिवार डरा सहम हुआ है. दरअसल इस पूरे मामले में पीड़ित महिला का साफ-साफ कहना था कि अगर मेरा सरकारी आवास दबंगों द्वारा रोका गया या नहीं बनने दिया गया तो पीड़ित महिला अपने पूरे परिवार संग जहर खा कर आत्महत्या कर लेगी. या फिर संयुक्त परिवार इच्छा मृत्यु के लिए राज्यपाल को पत्र लिखेंगे. अब सबसे बड़ा सवाल यह उठता है कि जहां सूबे की सरकार दबंगों के खिलाफ एक मुहिम चला रही है. वहीं दूसरी तरफ प्रधानमंत्री के ही संसदीय क्षेत्र में दबंगों द्वारा गरीबों का शोषण व अत्याचार लगातार जारी है. इस पूरे मामले से साफ स्पष्ट होता है कि कहीं न कहीं दबंगों के ऊपर नकेल कसने में उत्तर प्रदेश सरकार फेल नजर आती दिख रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.