देर सर्द रातों में सड़को पर उतरकर विकास कार्यो का PM मोदी ने किया निरीक्षण

अपने संसदीय क्षेत्र बनारस दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी दिन भर के व्यस्त कार्यक्रम के बाद सोमवार रात शहर भ्रमण के लिए निकल पड़े. रात तक चली मुख्यमंत्रियों के साथ हुई बैठक के बाद रविदास घाट पर जलयान से उतरे तो रवींद्रपुरी कालोनी होते रात 12.20 बजे गोदौलिया पहुंच गए. चौराहे पर कार से उतरे और पैदल दशाश्वमेध की ओर चल दिए. पीएम के गोदौलिया पहुंचने की जानकारी पहले से ही पुलिस प्रशासन को हो गई थी, इसलिए सुरक्षा व्यवस्था दुरुस्त कर दी गई थी लेकिन पीएम मोदी तो सांसद के तौर पर रात को गोदौलिया पहुंचे थे.

ऐसे में वे जनता से दूर कैसे रह सकते थे. उन्होंने प्रोटोकाल तोड़ दिया और जनता के बीच चले गए.हाथ हिलाकर जनता का अभिनंदन किया. यह देख सबका जोश सातवें आसमान पर पहुंच गया. हर-हर महादेव…, का उद्घोष होने लगा। पीएम मोदी डेढ़सीपुल के पास पहुंचकर रुक गए। साथ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ थे.पीएम मोदी ने कमीश्नर दीपक अग्रवाल को पास बुलाया.शहर में हो रहे विकास कार्यों के बारे में जानकारी की. उन्होंने बाढ़ के दिनों में गंगा का जल स्तर गोदौलिया तक आने की जानकारी से अवगत कराया और इसका कारण पूछा. कमीश्नर ने बिंदुवार बातें रखीं जिसको सुनकर पीएम मोदी ने उनकी पीठ थपथपाई.कहा कि जनसहयोग से दशाश्वमेध मार्ग समेत पूरे क्षेत्र को और भव्य बनाया जाए. कमीश्नर से करीब 20 मिनट तक वार्ता हुई.बताते हैं कि बाढ़ के दिनों में शहरी इलाका पानी से डूब गया था जिसकी फोटो पीएम मोदी तक पहुंची थी.डेढ़सीपुर से गोदौलिया चौराहे तक लौटते वक्त पीएम मोदी ने एक बच्चे को दुलारा भी.

इतनी रात को डर तो नही लग रहा

पीएम मोदी के साथ मौजूद सीएम योगी आदित्यनाथ भी खुद को नहीं रोक पाए और बच्चे को दुलारने लगे. बच्चा प्रणय सक्सेना राजस्थान से आया था.उसके पिता सौरभ सक्सेना के साथ मां भी मौजूद थीं. पीएम मोदी ने सौरभ से पूछा कि काशी में रात को भ्रमण कर रहे हैं.आप लोगों को डर तो नहीं लग रहा है इस पर सौरभ ने कहा कि बिल्कुल नहीं.

20 मिनट बाबा दरबार में गुजरा

रात को पीएम मोदी बाबा दरबार भी गए.इस दौरान भीड़ से इतर बाबा दरबार की लाइटिंग आदि को निहारा.साथ ही एक लघु फिल्म को भी देखा. यह फिल्म श्रीकाशी विश्वनाथ धाम निर्माण व मंदिर के इतिहास पर पर आधारित है.करीब 20 मिनट बाद पीएम मोदी जब मंदिर से बाहर निकले तो सीएम योगी के साथ शहर भ्रमण के लिए निकल गए.

बनारस रेलवे स्टेशन पहुंचे मोदी

गोदौलिया से मैदागिन होते हुए कबीरचौरा से लहुराबीर चौराहे पहुंचे. फिर संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय के समीप से गुजरी सड़क से होते हुए चौकाघाट लकड़ी मंडी पहुंच गए. जहां से फ्लाइओवर होते हुए लहरतारा से मंडुआडीह स्थित बनारस रेलवे स्टेशन पहुंच गए. परिसर में दूसरे प्रवेश द्वार पर लगे रेल इंजन के माडल को बड़े ध्यान देखा. फिर स्टेशन प्लेटफार्म नंबर आठ पर पहुंच गए। वीआइपी लाउंज के अंदर भी गए. चहुंओर निहार और फिर बाहर निकले। देर रात काफिला बरेका गेस्ट हाउस पहुंच गया.

यहाँ से प्रधानमंत्री तकरीबन डेढ़ बजे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ बरेका गेस्ट हॉउस रात्रि विश्राम के लिए पहुंचे। इसके बाद उन्होने बनारस मे चल रहे कार्यों और रेलवे स्टेशन बनारस और रेलवे की सुविधाओं को लेकर दो ट्विट भी किया .

Leave a Reply

Your email address will not be published.