ज्ञानवापी मस्जिद सर्वे: कोर्ट ने रिपोर्ट जमा करने के लिए दिए दो और दिन, कमिश्नर को हटाया

वाराणसी सिविल कोर्ट ने मंगलवार को ज्ञानवापी मस्जिद के सर्वे के लिए गठित पैनल से एडवोकेट-आयुक्त अजय कुमार मिश्रा को हटा दिया. अदालत द्वारा नियुक्त विशेष आयोग को भी सर्वे रिपोर्ट जमा करने के लिए दो दिन और मिले हैं. आयोग ने सर्वे रिपोर्ट जमा करने के लिए दो दिन का समय मांगा था. कोर्ट द्वारा नियुक्त विशेष सहायक आयुक्त एडवोकेट विशाल सिंह ने कहा, “हमने अदालत से दो दिन का समय मांगा था. कोर्ट ने हमें रिपोर्ट जमा करने के लिए दो दिन का समय दिया है.”

यह सर्वेक्षण 14-16 मई तक तीन दिनों तक चला. अजय प्रताप सिंह के मुताबिक मंगलवार सुबह तक 50 फीसदी ही रिपोर्ट आ पाई. वाराणसी में काशी विश्वनाथ मंदिर-ज्ञानवापी मस्जिद परिसर का तीन दिवसीय अदालत की निगरानी में वीडियोग्राफी सर्वेक्षण सोमवार को संपन्न हुआ. मामले में हिंदू याचिकाकर्ता सोहनलाल आर्य ने सोमवार को दावा किया कि समिति को परिसर में एक शिवलिंग मिला. मस्जिद सर्वेक्षण के लिए अदालत आयोग के साथ गए आर्य ने कहा कि उन्हें “निर्णायक सबूत” मिले हैं.