वाराणसी में कांग्रेस को बड़ा झटका, रामनगर नगर पालिका अध्यक्ष ने समर्थकों संग छोड़ा कांग्रेस का दामन, टिकट बंटवारे से हैं नाराज

कांग्रेस ने गुरुवार को वाराणसी के सभी सीटों पर अपने प्रत्याशियों का लिस्ट फाइनल कर दिया। साथ ही प्रत्याशियों की लिस्ट सामने आने के बाद पार्टी में विरोध के स्वर भी तेज हो गए हैं कार्यकर्ताओं में सबसे ज्यादा विरोध दक्षिणी विधानसभा और कैंट विधानसभा में है।
ऐसे में रामनगर के नगर पालिका अध्यक्ष रेखा शर्मा ने अपने समर्थकों संग पार्टी छोड़ने का ऐलान कर दिया है। उनका कहना है, “प्रियंका गांधी लड़ने वाली महिलाओं को आगे आना आने नहीं देना चाहती हैं।” जबकि इसके बावजूद वह विधानसभा का चुनाव लड़ेंगी। हालांकि अभी विकल्प की तलाश जारी है।
नगर पालिका अध्यक्ष ने आगे बताया कि हमारे साथ कई जिलों के अन्य कार्यकर्ता भी इस्तीफा देंगे। हमारे कुछ सूत्रों के अनुसार रेखा शर्मा 1-2 दिनों के में सपा या भाजपा का दामन भी धाम सकती हैं।
रेखा शर्मा ने आगे बताया कि वर्ष 2017 में भी राम नगर अध्यक्ष पद के लिए मेरा नाम काटा गया था हालांकि मेरी जीत के बाद पार्टी ने मुझसे माफी भी मांगी थी। आगामी विधानसभा चुनाव के लिए आठ महीने पहले ही मुझे आश्वस्त किया गया था। बुधवार देर रात प्रियंका गांधी के ऑफीस से मुझे फ़ोन करके कहा गया कि आप चुनाव की तैयारी करें। लेकिन विधानसभा चुनाव के लिस्ट में मेरा नाम काट दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.