ADCP काशीजोन ने पुलिस फोर्स के साथ किया फ्लैग मार्च, लोगो से बोले लोकतंत्र के महापर्व में जरूर करें शिरकत

वाराणसी. अगामी विधानसभा निर्वाचन-2022 को निष्पक्ष, भयमुक्त, सकुशल व शान्तिपूर्ण वातावरण में सम्पन्न कराए जाने के दृष्टिगत पुलिस उपायुक्त काशी-जोन कमिश्नरेट वाराणसी के निर्देशन में अपर पुलिस उपायुक्त काशी जोन, सहायक पुलिस आयुक्त कोतवाली, प्रभारी निरीक्षक आदमपुर सहित अर्धसैनिक बल (बीएसएफ) व पुलिस टीम ने थाना आदमपुर क्षेत्र में फ्लैग मार्च किया.

इस दौरान बलुवाबीर, हनुमानफाटक, छितनपुरा, मच्छोदरी, प्रहलादघाट, भैसपुर तिराहा, कजाकपुरा, गोलगड्डा तिराहा आदि कालोनियों व मुख्य चौराहों, बाजारों और संवेदनशील व अतिसंवेदनशील क्षेत्रों में फ्लैग मार्च किया. अपर पुलिस उपायुक्त काशी-जोन ने फ्लैग मार्च के दौरान क्षेत्रीय आम जनमानस को निर्देशित कि क्षेत्र में शांति व कानून व्यवस्था बनाये रखने में पुलिस प्रशासन का सहयोग करें, क्योंकि यह लोकतंत्र का महापर्व है.

उन्होंने आगे कहा कि अगर कोई व्यक्ति अपने पक्ष में मतदान करने के लिए डराता है या कोई शराब, पैसों व अन्य वस्तु व सामाग्री का प्रलोभन देता है अथवा किसी भी प्रकार की अफवाह व उन्माद फैलाने वालों, चुनाव को गलत तरीके से प्रभावित करने वालों के बारे में तत्काल 112 नम्बर अथवा संबंधित थाना प्रभारी को सूचित करें. यदि किसी प्रत्याशी, समर्थक या व्यक्ति द्वारा आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन किया जाता अथवा अशांति फैलाने का प्रयास किया जाता है तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

पुलिस प्रत्येक नागरिक की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध सम्बन्धित थाना प्रभारी को निर्देश दिये गये कि जो संवेदनशील मतदान केन्द्र का लगातार भ्रमण करते रहे जिससे आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन न हो सके तथा आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन करने वालो के खिलाफ आवश्यक कार्रवाई की जाये. साथ ही कोरोना के बढ़ते संक्रमण को ध्यान में रखते हुए अनिवार्य रूप से मास्क का प्रयोग एवं सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए निर्भीक होकर मतदान करने के लिए आमजन को प्रेरित किया गया. जनता से आपसी सदभाव व शांति एवं सौहार्द बनाये रखने की अपील की गयी.

सोशल मीडिया के दुरुपयोग व अफवाहों के सम्बन्ध में भी लोगों को सचेत व जागरुक किया गया है. फ्लैग मार्च का मुख्य उद्देश्य यह था कि जनता में सुरक्षा भाव पैदा हो. इसलिए अर्धसैनिक बल व पुलिस फोर्स को पब्लिक के बीच में घुमाया जाए जिससे जनता में पुलिस के प्रति विश्वास भाव पैदा हो. जिससे उत्साह के साथ भयमुक्त होकर व बिना पक्षपात के अपने मताधिकार का प्रयोग कर सके.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *