सरकार के CUET फैसले का ABVP ने किया स्वागत, राष्ट्रीय महामंत्री निधि त्रिपाठी ने कहा , छात्रों के हित में फैसला

वाराणसी. दो दिवसीय प्रवास पर वाराणसी आई अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की राष्ट्रीय महामंत्री निधि त्रिपाठी ने काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के लक्ष्मण दास गेस्ट हाउस में पत्रकार वार्ता में सम्बोधित करते हुए विभिन्न विषयों पर अपनी बात रखी. मीडिया से बातचीत के दौरान निधि त्रिपाठी ने कहा कि सर्वप्रथम मैं समस्त विद्यार्थियों को बधाई देना चाहती हूं क्योंकि राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्रियान्वयन की दिशा में एक अहम कदम उठाते हुए केंद्रीय विश्वविद्यालयों में प्रवेश हेतु केंद्रीय प्रवेश परीक्षा (Central University Entrance Test- CUET) कराने का निर्णय शिक्षा मंत्रालय द्वारा लिया गया है. यह निर्णय कई मायनों में छात्रों के हित में हैं.

इस निर्णय से सर्वप्रथम विभिन्न विश्वविद्यालयों में प्रवेश लेने के इछुक विद्यार्थियों पर पड़ने वाली आर्थिक मार से उन्हें राहत मिलेगी. केंद्रीकृत प्रवेश परीक्षा से छात्र मेरिट के जंजाल से बाहर आएगा. इसी के साथ एक ही आवेदन पत्र के माध्यम से विद्यार्थियों को विभिन्न विश्वविद्यालयों में आवेदन करने का अवसर मिलेगा. इससे न सिर्फ उनकी आर्थिक बचत होगी अपितु समय की भी बचत होगी. अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद लंबे समय से सभी केंद्रीय विश्वविद्यालयो में CUET कराने का पक्षधर रही है और केंद्र सरकार के इस निर्णय का स्वागत करती है.

90 के दशक में कश्मीरी हिंदुओं पर हुए अत्याचार का जीवंत चित्रण

इसी के साथ निधि त्रिपाठी ने हाल में रिलीज हुई फिल्म ‘कश्मीर फाइल्स’ पर प्रकाश डालते हुए कहा कि यह सिर्फ एक फिल्म नहीं बल्कि 90 के दशक में कश्मीरी हिन्दुओं पर हुए अत्याचार का जीवंत चित्रण है. इस दौरान निधि त्रिपाठी ने 1990 के दशक में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा ‘चलो कश्मीर’ अभियान का जिक्र करते हुए कहा कि कश्मीरी हिन्दुओं के कश्मीर घाटी से विस्थापन के समय अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने देशभर में 100 स्थानों पर कश्मीरी हिन्दू छात्रों के साथ उनकी आवाज को बुलंद किया.

लावण्या को न्याय दिलाने के लिए ABVP आज भी सक्रिय है

पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए निधि त्रिपाठी ने कहा हाल ही में तमिलनाडु के तंजावुर में घटित हुई ‘लावण्या आत्महत्या प्रकरण’ पर प्रकाश डालते हुए कहा कि लावण्या को न्याय दिलाने के लिए अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद प्रथम दिवस से ही लावण्या को न्याय दिलाने के लिए संघर्षरत है. लावण्या को न्याय दिलाने के क्रम में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा तमिल नाडु सरकार के विरुद्ध देशभर में प्रदर्शन किया गया एवं उनकी दमनकारी नीतियों की निंदा की गई.

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की स्थापना पर डाला प्रकाश निधि त्रिपाठी ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की स्थापना के 75वर्षों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि “अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की स्थापना वर्ष 1949 में हुई थी. वर्ष 1949 से लेकर आज तक विद्यार्थी परिषद ने राष्ट्रहित में कई आंदोलन, अभियान एवं कार्य किए हैं. इन्हीं कार्यों को संकलित कर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की ऐतिहासिक पृष्ठभूमि पर दो खंडों में ध्येय यात्रा नामक किताब आगामी 15 अप्रैल को प्रकाशित होने वाली है जिसका पंजीकरण देशभर में चल रहा है.

ABVP केंद्रीय विश्वविद्यालयों में प्रवेश हेतु इछुक विद्यार्थियों की हर सम्भव करेगा सहायता

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद काशी हिन्दू विश्वविद्यालय इकाई के अध्यक्ष अभय प्रताप ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि केंद्रीय विश्वविद्यालयों में प्रवेश हेतु CUET कराए जाने का निर्णय छात्रहित में है. इससे छात्रों को होने वाली तमाम प्रकार की असुविधाओं पर लगाम लगेगी। साथ ही आने वाले समय में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद काशी हिन्दू विश्वविद्यालय इकाई केंद्रीय विश्वविद्यालयों में प्रवेश हेतु इछुक विद्यार्थियों की हर सम्भव सहायता करेगी। आने वाले दिनों में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद छात्रहित से जुड़े विभिन्न विषयों पर कार्य करती रहेगी.