ABVP ने किया तीन दिवसीय “युवोत्सव” का आयोजन, सांस्कृतिक कार्यक्रम से हुआ समापन

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद अपने स्थापना काल से ही स्वामी विवेकानंद जी के विचारों से प्रेरित रही है.इसी क्रम में प्रति वर्ष अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद “काशी हिन्दू विश्वविद्यालय” इकाई द्वारा स्वामी विवेकानंद जी की जन्म जयंती ‘युवा दिवस’ के स्वरूप में बहुत ही भव्य तरीके से मनाई जाती है.

इस वर्ष स्वामी विवेकानंद जी की जयंती पर तीन दिवसीय कार्यक्रम ‘युवोत्सव’ का आयोजन एबीवीपी बीएचयू इकाई द्वारा किया जा रहा हैं. जिसके प्रथम दिन दिनांक 11/01/2022 को दीपोत्सव ,दिनांक 12/01/2022 को युवा दिवस के अवसर पर शोभायात्रा और दिनांक 13/01/2022 को सांस्कृतिक कार्यक्रम के माध्यम से स्वामी विवेकानंद जी के विचार युवाओं तक पहुंचाने हेतु कार्यक्रम का आयोजन किया गया.

गुरुवार को युवोत्सव के क्रम में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन परिसर स्थित शताब्दी कृषि प्रेक्षागृह में किया गया.उक्त कार्यक्रम में विभिन्न छात्र छात्राओं ने दस से ज़्यादा प्रस्तुति की.

काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के छात्र एवं युवा कवि प्रशांत बजरंगी की वीर रस एवं राष्ट्रवाद आधारित कविताओं ने श्रोताओं का मन मोहा वहीं दूसरी तरफ पूर्वोत्तर राज्य असम की छात्राओं द्वारा पारंपरिक नृत्य से असम की संस्कृति का चित्रण किया गया. इसी के साथ तबला वादन,कजरी गायन एवं भजन गायन का आयोजन भी किया गया।कार्यक्रम में आकर्षण का केंद्र स्वामी विवेकानंद के जीवन पर आधारित नाटक का मंचन रहा जो कि बनारस यूथ थियेटर की टीम के द्वारा किया गया.

इस दौरान मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद काशी प्रान्त के प्रांत संगठन मंत्री श्री अभिलाष जी ने कहा कि “स्वामी विवेकानंद जी के जन्मदिवस को धूमधाम से मनाने का एकमात्र उद्देश्य स्वामी जी के विचारों को युवाओं तक पहुंचाने का है. युवा अगर स्वामी जी के दिखाए रास्ते पर चलेगा तो वह स्वयं के निर्माण के साथ साथ राष्ट्र के पुनर्निर्माण में भी अपनी भागीदारी सुनिश्चित कर पाएगा।स्वामी विवेकानंद के विचार आज भी उतने ही प्रासंगिक हैं जितना वह पहले थे. आज आवश्यकता है की भारत का युवा स्वामी जी जैसे महापुरुषों से प्रेरणा लेते हुए देश को आगे ले जाएं”.

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे भूगोल विभाग के आचार्य प्रो.एन.के राना ने कहा कि ” यह हम सभी के लिए बड़े ही गर्व का विषय है कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद स्वामी विवेकानंद जी की जयंती को इतने रचनात्मकता के साथ मना रहा है. स्वामी जी ने युवाओं को यही संदेश दिया था कि अपनी संस्कृति को आत्मसम्मत करते हुए इस राष्ट्र के उत्थान में अपना योगदान दें. इस भव्य एवं सफल कार्यक्रम के लिए अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद काशी हिन्दू विश्वविद्यालय इकाई सराहना की पात्र है.”

इस दौरान अतिथियों का स्वागत अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद काशी हिन्दू विश्वविद्यालय इकाई के उपाध्यक्ष सत्यनारायण रघुवंशी द्वारा किया गया एवं तीन दिवसीय ‘युवोत्सव’ कार्यक्रम के बारे में श्रोताओं को परिचय कराया.

धन्यवाद ज्ञापन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद काशी हिन्दू विश्वविद्यालय इकाई के मंत्री पुनीत मिश्र द्वारा किया गया इस दौरान उंन्होने कहा कि “विद्यार्थी परिषद भविष्य में भी इस प्रकार के रचनात्मक कार्यक्रम का आयोजन करता रहेगा जिससे युवाओं के मध्य महापुरुषों के विचारों के प्रति सम्मान जागृत हो सके.

मंच संचालन गजेंद्र मणी दूबे एवं अंचल पांडेय द्वारा किया गया. कार्यक्रम के दौरान कार्यक्रम संयोजक सतीश त्रिपाठी, विभाग सन्गठन मंत्री राहुल राणा,युवोत्सव कार्यक्रम प्रमुख अंकित सिंह,सौरभ राय,आकांक्षा चौबे,सृष्टि, कामन,अमर्त्य उपाध्याय, अपर्णा पांडेय,विपुल सिंह समेत बड़ी संख्या में छात्र एवं शिक्षक उपस्थित रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.