देशभर में 75 हजार बौद्धिक दिव्यांग बच्चे एक साथ करेंगे जॉगिंग, वाराणसी से करेंगे योगाचार्य पद्मश्री शिवानंद बाबा उद्घाटन

वाराणसी.स्पेशल ओलंधिक भारत उत्तर प्रदेश ईस्ट के बैनर तले पाणन हॉस एजुकेशन फैकेल्टी बीएचयू वाराणसी में 7 अप्रैल 2022 को आयोजित होने वाले आजादी के अमृत महोत्सव के कार्यक्रम के संदर्भ में आयोजित हुए आलंपिक भारत उत्तर प्रदेश ईस्ट के चेयरमैन दिव्यांगबंधु को उत्तम ओझा ने बताया कि यह कार्यक्रम पूरे भारत में एक साथ मनाया जाएगा जिसमें 75000 बौद्धिक दिव्यांग बच्चे एक साथ खेलेंगे जिसे गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड में शामिल किया जाना है. भारत में बौद्धिक दिव्यांगों की संख्या कुल आबादी का 36 है जिसमें बच्चे अधिक है. कोरोना महामारी के कारण बच्चों में अनेक तरह की व्यवहारिक एवं मानसिक समस्याएं देखने को मिल रही है इस कार्यक्रम उनमें उत्साह का संचार होगा और प्रधानमंत्री जी के समावेशी भारत का सपना साकार होगा.

आजादी के अमृत महोत्सव के शुभारंभ कार्यक्रम का उद्घाटन श्री रविंद्र जायसवाल स्टांप न्यायालय शुल्क एवं पंजीयन मंत्री उत्तर प्रदेश सरकार तथा अध्यक्षता 125 वर्षीय राष्ट्रपति द्वारा पद्मश्री पुरस्कार प्राप्त योगाचार्य श्री शिवानंद जी करेंगे. महोत्सव चाणक्य हाल एजुकेशन पैकेटी (कमच्छा) बी एस यू, वाराणसी में संपन्न होगा. स्पेशल ओलंपिक भारत उत्तर प्रदेश ईस्ट के एरिया डायरेक्टर श्री मनोज सिंह ने बताया कि गिनीज बुक: रिकॉर्ड में शामिल होने के लिए पूरे भारत में 75000 मानसिक दिव्यांग बच्चों द्वारा एक साथ गतिविधियां किया जाना आवश्यक है इसलिए कार्यक्रम व्यवस्थित एवं समयबद ढंग से किया जाना अत्यंत आवश्यक है.

प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए प्रख्यात मनोचिकित्सक डॉ तुलसीदास जी ने कहा कि मेरे व वरिष्ठ मनोवैज्ञानिक डॉ मनोज तिवारी के नेतृत में मनोवैज्ञानिक परामर्शदाताओं की टीम महोत्सव में आए बौद्धिक दिव्यांग बच्चों तथा उनके माता-पिता को परामर्श प्रदान करेगी.अमृत महोत्सव में बौद्धिक दिव्यांग बच्चों का खेलकूद, स्वास्थ्य परीक्षण एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा. प्रसिद्ध बाल रोग विशेषज्ञ डॉ संजय चौरसिया ने इस अवसर पर बताया कि अमृत महोत्सव में आने वाले बौद्धिक दिव्यांग बच्चों को हमारी टीम निःशुल्क स्वास्थ्य चेकअप के साथ-साथ परामर्श भी प्रदान करेगी. प्रो टी पी चतुर्वेदी एवं डॉ मनोज श्रीवास्तव दंत परीक्षण कर परामर्श प्रदान करेंगे, प्रो एस एस पाण्डेय व डॉ धीरज सिंह फिजियोथैरेपी की सेवाएं प्रदान करें.

डॉ नीरज खन्ना ने बताया कि कार्यक्रम सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे तक चलेगा, यह काशी के लिए गौरव का विषय है कि हम इस ऐतिहा कार्यक्रम में सहभागी व सहयोगी बन रहे हैं. कार्यक्रम के मीडिया प्रभारी डॉ मनोज तिवारी ने प्रेस वार्ता में आए सम्मानित छायाकार व पत्र बंधुओं से आह्वान किया कि इस कार्यक्रम को व्यापक रूप से प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में जगह प्रदान करें ताकि अधिक से अधिक आकर दिव्यांग बच्चों का उत्साहवर्धन के साथ-साथ कार्यक्रम को सफल बनाने में सहयोग दें.

प्रेस वार्ता में मुख्य रूप से श्याम जी, आशुतोष, प्रदीप सोनी, चंद्रकला रावत, पूजा पांडेय, गोल्डी अरोड़ा व अन्य गणमान्य उपस्थित रहें.