125 वर्षीय काशी के योग गुरु स्वामी शिवानंद को मिला पद्म श्री पुरस्कार, पीएम मोदी ने भी उन्हें झुककर किया प्रणाम

काशी के 125 वर्षीय योग गुरु स्वामी शिवानंद को सोमवार को योग के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद से पद्म श्री पुरस्कार मिला. योग सेवक के नाम से मशहूर स्वामी शिवानंद ने आज पद्मश्री ग्रहण किया तथा राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने नतमस्तक हुए. पद्म पुरस्कार, देश के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कारों में से एक, तीन श्रेणियों, पद्म विभूषण, पद्म भूषण और पद्म श्री में प्रदान किए जाते हैं.

पुरस्कारों की घोषणा हर साल गणतंत्र दिवस के अवसर पर की जाती है. ये पुरस्कार भारत के राष्ट्रपति द्वारा औपचारिक समारोहों में प्रदान किए जाते हैं, जो आमतौर पर हर साल मार्च/अप्रैल के आसपास राष्ट्रपति भवन में आयोजित किए जाते हैं. इस वर्ष राष्ट्रपति ने 128 पद्म पुरस्कारों को प्रदान करने की मंजूरी दी है. इस सूची में 4 पद्म विभूषण, 17 पद्म भूषण और 107 पद्म श्री पुरस्कार शामिल हैं. पुरस्कार पाने वालों में 34 महिलाएं हैं और सूची में विदेशियों/एनआरआई/पीआईओ/ओसीआई की श्रेणी के 10 व्यक्ति और 13 मरणोपरांत पुरस्कार पाने वाले भी शामिल हैं.