प्रतिभा और बुद्धि के अद्भुत कम्बिनेशन हैं “हिमांशु वर्मा (स्वर्णकार), रोजगार एवं सोशल मीडिया के पहलुओं पर कर चुके हैं सैकड़ों डिबेट

साहसी और प्रतिभाशाली व्यक्ति अपने तपोबल और कर्मयोग से ही सम्मान प्राप्त करते है.

उपरोक्त कथन शानदार वक्ता, ज्ञान के सागर, देश के विभिन्न राष्ट्रीय समाचार चैनलों जैसे की एनडीटीवी, न्यूज 24, सीएनएन न्यूज 18, एबीपी, ज़ी बिजनेस, ज़ी न्यूज, सीएनबीसी आवाज़, राज्यसभा टीवी, आर भारत पर विभिन्न मुद्दों पर प्रभावी तरीके से डिबेट करने वाले हिमांशु वर्मा (स्वर्णकार) पर बिल्कुल ठीक बैठती है.

हिमांशु वर्मा मध्य वर्ग के उच्च शिक्षित परिवार से आते हैं. जिनका जन्म लखनऊ में हुआ. इन्होंने बी.टेक, एम० बी० ए,  एलएलबी जैसी डिग्रियां कठिन परिश्रम से अर्जित की हैं. समाज सेवा के क्षेत्र में अतुलनीय कार्य करते हुए इन्होंने सन् 2015 में UDAI (Universal Development and Inspiration Foundation) नाम से एक एनजीओ की भी नींव डाली है. ये संस्था गरीब बच्चों एवं स्वास्थ सेवाओं के क्षेत्र में प्रमुखता के साथ काम करती है.

हिमांशु वर्मा ने आज अपनी प्रतिभा, अपने गहरे ज्ञान, शानदार एवं प्रभावी तरीके से अपनी बातों को रखने के फलस्वरूप राष्ट्रीय स्तर पर औरों से हटकर अपनी एक अलग पहचान बना ली है. इनकी एक प्रमुख खासियत है कि ये अंग्रेजी और हिंदी दोनों ही भाषाओं में समान रूप से कुशलता के साथ परिचर्चा करने में निपुण हैं.

देश के दो प्रमुख मुद्दे जैसे कि अर्थव्यवस्था में युवाओं के लिए रोजगार एवं सोशल मीडिया के विभिन्न पहलुओं पर 550 से ज्यादा डिबेट कर चुके हैं और इन्हीं दो मुद्दों के आधार पर इन्होंने खुद को भारत के एकमात्र रोजगार एवम सोशल मीडिया एक्सपर्ट के तौर पर स्थापित कर लिया है. राजनीतिक परिचर्चाओं पर विभिन्न राजनीतिक दल के प्रवक्ताओं को अपने अकाट्य तर्कों से चुप कराने तक का सामर्थ्य रखते हैं. जिन लोगों को यह लगता है कि समाज प्रतिभाओं से खाली है. उन्हे हिमांशु वर्मा जी डिबेट अवश्य सुननी चाहिए, ताकि उन्हें यह अहसास हो कि प्रतिभा और बुद्धि देने के विषय में देवी सरस्वती किसी प्रकार का भेदभाव नहीं करतीं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.