यूपी के जालौन में शौचालय की दीवारों पर लिखे जा रहे बाबर और औरंगजेब के नाम, देखें तस्वीरें

वाराणसी में ज्ञानवापी जहां विवाद का केंद्र बना हुआ है, वहीं इसको लेकर मुगल शासक औरंगजेब का अपने अत्याचारी शासन व हिंदुओं को निशाना बनाने और उनके धार्मिक ढांचों को ध्वस्त करने के लिए विरोध किया जा रहा है. मुगल आक्रमणकारियों के निरंकुश और दमनकारी शासन पर छिड़ी बहस के बीच, उत्तर प्रदेश के जालौन जिले में शौचालयों और सार्वजनिक मूत्रालयों की दीवारों पर उनके नाम और चित्र अंकित किए जा रहे हैं.

कुछ ही समय में हो गया वायरल

यह घटना तब सामने आई जब कुछ यूजर्स ने इन शौचालयों की तस्वीरें क्लिक कर सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दीं. कुछ ही समय में यह वायरल हो गया. इस बात के दस्तावेज प्रमाण हैं कि औरंगजेब के शासन के दौरान श्री काशी विश्वनाथ मंदिर के एक हिस्से को ध्वस्त कर दिया गया था और इसके खंडहरों पर मस्जिद बनाई गई थी.

7 सार्वजनिक शौचालयों पर बाबर, हुमायूं और औरंगजेब

जालौन कस्बे में टॉयलेट का नाम मुगलों के नाम पर रखने की खबर भी आई है. कुछ ने सार्वजनिक शौचालयों पर मुग़ल शासकों के नाम की पेंटिंग बना दी. इनमें अकबर, हुमायूं, खिलजी, औरंगजेब और अन्य शामिल थे. मुस्लिम समूहों ने मुगल शासकों के प्रदर्शन पर आपत्ति जताई और पुलिस से शिकायत की और कहा कि यह शहर का माहौल खराब करने की राजनीतिक साजिश है.

डीएम ने दिया कार्रवाई का आश्वासन

प्रेस से बात करते हुए, जालौन डीएम प्रियंका निरंजन ने कहा कि उपद्रव करने वालों के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई की जाएगी और कहा कि सांप्रदायिक आग को भड़काने के प्रयास को शांत किया जाएगा. उन्होंने यह भी बताया कि नगर निगम के अधिकारी मामले की जांच कर रहे हैं और जल्द ही दोषियों को पकड़ लिया जाएगा.