खबर का असर: पत्रकार से दुर्व्यवहार मामले में हॉस्पिटल संचालक ने मांगी माफी, द फ्रंट फेस इंडिया में खबर लिखे जाने के बाद हुई कार्यवाही

ब्यूरो रिपोर्ट- शिव राज विश्वकर्मा

पत्रकार से दुर्व्यवहार के मामले में हॉस्पिटल के संचालक ने लिखित तौर पर माफी मांगी है। द फ्रंट फेस इंडिया में खबर लिखे जाने के कुछ ही घण्टों के भीतर ही रविवार देर रात हॉस्पिटल संचालक ने लिखित तौर पर माफी मांगी है। जिसमें उसने दोबारा ऐसी गलती न होने का वचन भी दिया है। पुलिस चौकी पर लिखित माफीनामा के बाद मामला सुलझ गया है। चिकित्सक ने स्वीकार किया कि 2 पत्रकारों से समाचार संकलन के दौरान उनसे दुर्व्यवहार हुआ है। बता दें कि पड़ाव क्षेत्र के नई डाण्डी स्थित एक चार चक्का वाहन पलटने से पति और पत्नी घायल हुए। जिन्हें क्षेत्र के संतुष्टि हॉस्पिटल में क्षेत्रवासियों व परिजनों ने भर्ती कराया गया था।

दूसरे दिन सुबह जब उक्त खबर को कवरेज करने कुछ पत्रकार गए तो उस दौरान पति-पत्नी सहित दोनों पक्ष के परिजन आपस में विवाद करने लगे। पत्रकारों द्वारा कवरेज कर रहे संतोष हॉस्पिटल के कर्मचारियों द्वारा बदतमीजी करते हुए कैमरे को छीनने का प्रयास किया गया। कुछ देर बाद जलीलपुर चौकी इंचार्ज कृष्ण कुमार गुप्ता मौके पर पहुंच कर संतोष हॉस्पिटल के संचालक गोपाल दास गुप्ता को बुलाया और दोनों पक्ष को समझाने का प्रयास करने लगे लेकिन हॉस्पिटल के संचालक गोपाल दास गुप्ता ने चौकी प्रभारी कृष्ण कुमार गुप्ता के सामने ही पुलिस चौकी जलीलपुर मे पत्रकार के साथ गाली गलौज करते हुए मारने की धमकी देने लगा।

द फ्रंट फेस इंडिया में खबर लिखे जाने के बाद हॉस्पिटल के डायरेक्टर व वरिष्ठ चिकित्सक डॉ० जी० डी० गुप्ता ने क्षेत्रीय पुलिस चौकी पर लिखित माफीनामा देकर माफी मांगी है। माफीनामे में उन्होंने लिखा कि,”दिनांक 20-03-2022 को शाम लगभग 5 बजे करीब जब पत्रकार चन्द्रशेखर पटेल ( जन संदेश टाइम्स) व मोती लाल गुप्ता जी समाचार संकलन हेतु मेरे हॉस्पिटल में गये थे और एक मरीज जोकि बिती रात को दुर्घटनाग्रस्त होने पर मेरे हॉस्पिटल में भर्ती था। उसका समाचार बनाते समय मेरे तीन स्टाफ व मैं स्वयं आप दोनों लोगों के साथ बदतमीजी करने लगे थे जिसको मैं स्वीकार करता हूँ तथा भविष्य में मैं ऐसी किसी भी प्रकार का कुकृत्य न करने का वचन देता हूँ और मैं आप दोनों के समय मांफी मांगता हूँ।”