बाल मेले में बच्चों ने दिखाई अपनी प्रतिभा, सेंट्रल पब्लिक स्कूल में ‘बाल मेला’ का आयोजन

पीडीडीयू नगर (मुगलसराय). कहते हैं कि प्रतिभा किसी की मोहताज नहीं होती, मनुष्य में प्रतिभा जन्म से ही पनपने लगती है. जो कि समय-समय पर दिखती है. कुछ ऐसी ही प्रतिभा का दर्शन कराया सेंट्रल पब्लिक स्कूल के स्टूडेंट्स ने. चन्धासी स्थित सेन्ट्रल पब्लिक स्कूल में रविवार को बाल मेला का आयोजन किया गया. जिसमें नर्सरी से इंटरमीडिएट तक के स्टूडेंट्स ने पार्टिसिपेट किया. कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य बच्चों में आत्मनिर्भरता को निखारना था. बाल मेले में बच्चों ने न केवल खानपान के विभिन्न स्टाल लगाए थे बल्कि प्रेरक झांकियां भी सजाए थे. इसके साथ ही ज्ञानवर्धक विज्ञान के मॉडलों की प्रदर्शनी भी लगाई थी. अतिथियों का स्वागत सीएमडी विनय कुमार वर्मा ने किया. कार्यक्रम का संचालन प्रशासनिक अधिकारी अशोक कुमार ने व धन्यवाद ज्ञापन उप प्रधानाचार्य श्रीवास्तव ने किया.

दीप प्रज्ज्वलन से हुई शुरुआत

कार्यक्रम की शुरुआत मुख्य अतिथि मुग़लसराय नगरपालिका के चैयरमैन संतोष खरवार, विशिष्ट अतिथि जायसवाल स्कूल के प्रबंधक ओम प्रकाश जायसवाल एवं पूर्व प्रधान दयाराम ने सामूहिक रूप से मां सरस्वती के तैल चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रजवल्लित करके किया. जिसके पश्चात बच्चों ने तरह-तरह के स्टॉल एवं झांकियों से दर्शकों का मन मोहा.

मां सरस्वती के तस्वीर पर माल्यार्पण करते व् दीप प्रज्ज्वलित करते मुख्य अतिथि संतोष खरवार

ऐसे कार्यक्रमों से बच्चों की प्रतिभा निखरती है : संतोष खरवार

विभिन्न झांकियों को देखकर दर्शको का मन गदगद हो गया. कार्यक्रम में आए मुख्य अतिथि समेत अन्य मेहमानों ने भी बच्चों की क्रिएटिविटी की खूब तारीफ की. कार्यकर्म का संबोधन करते हुए मुख्य अतिथि नगरपालिका के चेयरमैन संतोष खरवार ने कहा कि इस तरह के कार्यक्रम का आयोजन कराना अपने आप में अद्भुत है. ऐसे कार्यक्रमों से बच्चों की प्रतिभा निखरती है. बच्चों में पढाई के साथ-साथ इस तरह के आयोजनों से बच्चों को ऊर्जा मिलती है.. साथ ही उन्हें भी अपने भविष्य के लिए सोचने का मौका मिलता है. इस तह क्रिएटिविटी से उन्हें भी उनकी निपुणता का पता चलता है.

स्वतंत्रता संग्राम की 5 प्रमुख वीरांगनाओं संग सीएमडी विनय वर्मा एवं अतिथिगण

सेंट्रल पब्लिक स्कूल द्वारा वर्षों से किया जा रहा अनोखा पहल : ओम प्रकाश जायसवाल

विशिष्ट अतिथि उत्तर माध्यमिक विद्यालय मोदीनगर के प्रबंधक ओम प्रकाश जायसवाल ने कहा कि सेंट्रल पब्लिक स्कूल द्वारा अपने आप में एक अनोखा पहल वर्षों से किया जाता रहा है. जो बच्चे खानपान के स्टाल सजाए हुए थे वे लोगों को अपना सामान बेचने के लिए आकर्षित कर रहे थे . इस दौरान पूर्व प्रधान दयाराम जायसवाल ने भी अपने विचार व्यक्त किए. अंत में सभी अतिथिगणों ने विभिन्न स्टालों व झांकियों का अवलोकन किए.

शहीद-ए-आजम भगत सिंह, राजगुरु एवं सुखदेव फांसी का दृश्य

बाल मेले में लगाई गई झांकियों में भारत माता, महारानी लक्ष्मी बाई, भगत सिंह की फांसी का दृश्य,  चंद्रशेखर आजाद,  प्रदूषण,  कोविड-19, डेंगू सहित विज्ञान की झांकियों में बच्चों ने कई अनोखे मॉडल भी लगाए थे . इस दौरान भारी संख्या में लोगों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई.

कोरोना की झांकी
विज्ञान प्रदर्शनी
बच्चों द्वारा लगाए स्टाल का निरीक्षण करते अतिथिगण
मुख्य अतिथियों को स्मृतिचिन्ह देकर किया गया सम्मानित

One thought on “बाल मेले में बच्चों ने दिखाई अपनी प्रतिभा, सेंट्रल पब्लिक स्कूल में ‘बाल मेला’ का आयोजन

Leave a Reply

Your email address will not be published.