“गाय और गोबर्धन की बात करना कुछ लोगों ने गुनाह बना दिया है, हमारे लिए वह पूजनीय है” वाराणसी में बोले पीएम मोदी, कई परियोजनाओं की दी सौगात

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी गुरुवार को कहा कि कुछ लोगों ने ऐसे हमारे यहां गाय, गोबरधन की बात करना कुछ लोगों ने गुनाह बना दिया है. गाय कुछ लोगों के लिए गुनाह हो सकती है, हमारे लिए गाय माता है, पूजनीय है. प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी गुरूवार को विकास कार्यों का उद्घाटन करने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंचे थे. जहां उन्होंने काशी संकुल यानी अमूल प्लांट समेत 2095 करोड़ की योजनाओं का उद्घाटन किया. साथ ही उन्होंने छह परिवारों को घरौनी का प्रमाण पत्र दिया. इस दौरान उन्होंने कहा कि गाय-भैंस का मजाक उड़ाने वाले लोग ये भूल जाते हैं कि देश के 8 करोड़ परिवारों की आजीविका पशुधन से चलती है. पीएम मोदी ने कहा, “साथियों, एक जमाना था जब हमारे गांवों के घर आंगन में ही मवेशियों के झुण्ड ही सम्पन्नता के प्रतीक थे. हर कोई इसे पशुधन कहता था. खूंटे को लेकर स्पर्धा रहती थी. रोजगार के लिए यह सेक्टर हमेशा से बहत बड़ा माध्यम रहा है. लेकिन लम्बे समय से इस सेक्टर को सरकार का समर्थन नहीं मिला. आज हमारी सरकार इस स्थिति को बदल रही है.

पीएम मोदी ने आगे कहा, “कुछ लोगों को यूपी के विकास की बात करने से तकलीफ होती है. ये लोग नहीं चाहते कि काशी का विकास हो. सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास, सबका प्रयास की बातें भी उनके सिलेबस में ही नहीं है. उनकी सोच, बोलचाल सिलेबस में क्या है सब जानते हैं- माफियावाद, परिवारवाद, जमीनों पर अवैध कब्जा. पहले की सरकारों के समय यूपी के लोगों को जो मिला और आज लोगों को हमारी सरकार से जो मिल रहा है, उसका फर्क साफ है. हम यूपी में विरासत को बढ़ा रहे हैं और विकास को भी. लेकिन अपना स्वार्थ सोचने वाले इन लोगों को पूर्वांचल के विकास से, बाबा के काम से, विश्वनाथधाम के काम से आपत्ति होने लगी है. मुझे बताया गया कि बीते रविवार डेढ़ लाख से ज्यादा श्रद्धालु काशी विश्वनाथ धाम पहुंचे थे. यूपी को पीछे धकेलने वाले इन लोगों की नाराजगी और बढ़ेगी. लेकिन जैसे जैसे आपका आशीर्वाद हमारे लिए बढ़ता जाता है उनका गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंचेगा. डबल इंजन की सरकार यूपी के लिए ऐसी ही मेहनत करती रहेगी.”

Leave a Reply

Your email address will not be published.