Rajsthan: पूर्व सरपंच का बेटा नाबालिग लड़की से कर रहा था रेप, 14 वर्षीय लड़की ने रेपिस्ट को मार डाला, 3 पर केस दर्ज

बलात्कार एक ऐसी घटना है, जो मानवता को झकझोर देती है. किसी लड़की के बलात्कार होने की खबर  कानों पर पड़ते ही इंसान को इंसान होने पर शर्मिंदगी महसूस कराने वाली होती है. पिछले दिनों 3 साल पहले हुए रेपिस्ट के एनकाउंटर पर सुप्रीम कोर्ट ने पुलिसवालों को ही दोषी ठहराया. साथ ही उन पुलिसकर्मियों पर जांच के आदेश भी दिए. वहीँ पिछले दिनों मीडिया में एक और खबर चली कि एक पिता ने अपने बेटी के अपराधियों को कोर्ट के सामने गोलियों से भून दिया. दोनों खबरों का आपस में कोई ताल मेल नहीं दीखता. बस तालमेल दिखता है तो बस इतना कि हमारे यहां के सिस्टम से दोनों हारे.

ऐसी ही एक और खबर राजस्थान (Rajsthan) के अलवर से आ रही है. जहां 14 साल की एक नाबालिग लड़की ने सरपंच के बेटे की हत्या कर दी. क्योंकि युवक उसके साथ गलत काम करना चाहता था. सोमवार रात पुलिस ने खुद इस पूरी घटना का खुलासा किया. पुलिस ने दावा किया है कि नाबालिग लड़की ने ही सरपंच के बेटे की हत्या की है. आरोप है कि पूर्व सरपंच का बेटा लड़की को काफी समय से ब्लैकमेल करके रेप कर रहा था. इसके बाद वह अपने साथियों के साथ भी रिलेशन बनवाना चाहता था. यह लड़की से बर्दाश्त नहीं हुआ और उसने खेत में बुलाकर मार डाला. वारदात के समय युवक शराब के नशे में था. मामला अलवर के कोटकासिम इलाके का है.

पुलिस के सख्ती दिखाने पर मामला आया सामने

भिवाड़ी ASP अतुल साहू के अनुसार, 17 मई की रात पूर्व सरपंच धनीराम यादव के बेटे विक्रम यादव (45) की हत्या कर दी गई थी. अगले दिन 18 मई को उसका शव गांव के पास सड़क पर मिला था. परिजनों ने इसे सामान्य मौत मानकर शव घर ले गए. उन्हें लगा कि उसकी मौत गिरने से हुई है. अंतिम संस्कार के समय विक्रम के गले पर निशान दिखा. खून के धब्बे भी मिले. परिवार वालों ने पुलिस को सूचना दी. जांच में गांव की ही 10वीं में पढ़ने वाली लड़की की भूमिका संदिग्ध मिली. लड़की की मां नहीं हैं. उसका भाई प्राइवेट जॉब करता है. पुलिस ने उससे सख्ती दिखाई तो सारा मामला सामने आ गया.

कई दोस्तों संग संबंध बनाने को किया था मजबूर

ASP साहू ने बताया कि नाबालिग लड़की विक्रम यादव के घर पानी भरने जाया करती थी. डेढ़ महीने पहले नाबालिग ने अपने प्रेमी से बात करने के लिए विक्रम का फोन मांगा. दोनों के बीच की बात विक्रम के फोन में रिकॉर्ड हो गई थी. पिछले एक साल से लड़की का गांव के ही किसी युवक के साथ अफेयर चल रहा था. इस पर विक्रम उसे ब्लैकमेल करने लगा और रेप किया. विक्रम नाबालिग के साथ अपने दोस्तों का भी रिलेशन बनवाना चाहता था. इसी बात को लेकर लड़की ने उसे निपटाने की योजना बना डाली. उधर, विक्रम से पहले गांव के 2 अन्य युवक रेप कर रहे थे. करीब 6 महीने पहले इन युवकों को भी उसके अफेयर के बारे में पता चल गया था. इसी बात को लेकर दोनों युवक लड़की को ब्लैकमेल कर लगातार दुष्कर्म कर रहे थे.

भिवाड़ी ASP अतुल साहू ने कहा- यह पूरा मामला बेहद पेचीदा था. घटनास्थल से हमें कोई ज्यादा सबूत नहीं मिले थे. कई लोगों से पूछताछ और तकनीकी सहायता के जरिए हम नाबालिग तक पहुंचे. पूछताछ की तो यह सारा खुलासा हुआ. मामले में नाबालिग ने कोटकासिम थाने में सोमवार को रेप का मामला दर्ज करवाया है. इसमें नाम किसका-किसका है, इसकी जानकारी अभी नहीं दे सकते. उनकी गिरफ्तारी होने के बाद जानकारी सार्वजनिक की जाएगी.