देश के इन नदियों के जल से बाबा का जलाभिषेक करेंगे पीएम मोदी, काशी विश्वनाथ धाम का करेंगे लोकार्पण

देश के प्रधानमंत्री अपने ड्रीम प्रोजेक्ट श्री काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण करने 13 दिसंबर को वाराणसी पधारेंगे. पीएम के इस दो दिवसीय दौरे में वे तीन घंटे बाबा धाम में व्यतीत करेंगे. पीएम मोदी लोकार्पण से पहले गंगाजल लेकर मंदिर के गर्भगृह तक पैदल जाएंगे. तत्पश्चात देश के विभिन्न नदियों से लाये जल को गंगाजल में मिलाया जाएगा तथा उसी जल से प्रधानमंत्री मोदी बाबा का अभिषेक करेंगे.

जलाभिषेक के पश्चात् देंगे बाबा के नए धाम की सौगात

इस दौरान सबसे पहले 13 दिसंबर की सुबह 11 बजे सुबह वे लाल बहादुर शास्त्री एयरपोर्ट पहुंचेंगे. इसके बाद एयरपोर्ट से हेलीकाप्टर द्वारा संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय में बने हेलीपैड पर आएंगे. यहां से सड़क मार्ग द्वारा खिडकिया घाट पहुंचेंगे. खिडकिया घाट से वे क्रुज द्वारा गंगा के रास्ते श्रीकाशी विश्वनाथ धाम पहुंचेंगे. विश्वनाथ धाम का अवलोकन करते हुए वे मंदिर के गर्भगृह तक पहुंचेंगे. बाबा का जलाभिषेक करने के पश्चात् वे सम्पूर्ण देश को काशी विश्वनाथ धाम कॉरिडोर की सौगात देंगे. यहां से धाम का अवलोकन करते हुए वे क्रूज द्वारा काशी के घाटों की अप्रियतम छवि निहारते हुए रविदास घाट पहुंचेंगे. रविदास घाट से सड़क मार्ग द्वारा बीएलडब्ल्यू गेस्ट हाउस पहुंचेंगे.

14 मुख्यमंत्री और 3 उपमुख्यमंत्री रहेंगे पीएम मोदी के साथ

काशी प्रवास के दौरान इस बार पीएम मोदी बजड़े पर बैठकर माँ गंगा की विश्वप्रसिद्ध गंगा आरती देखेंगे. पीएम मोदी के साथ बीजेपी शासित राज्यों के 14 मुख्यमंत्री और 3 उपमुख्यमंत्री रहेंगे. जिस बजड़े पर बैठकर प्रधानमंत्री गंगा आरती देखने वाले हैं उसकी 5 तरह के फूलों से भव्य रूप में सजावट कर स्पाइरल लाइटिंग की जाएगी. भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री तरुण चुग के अनुसार भाजपा के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष, केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राष्ट्रीय मंत्री ऋतुराज सिन्हा, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह पटेल, प्रदेश संगठन महामंत्री सुनील बंसल, नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन, राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रेम शुक्ला, केके शर्मा 12 दिसंबर की शाम तक वाराणसी पहुंच जाएंगे. इनके ठहरने का इंतजाम स्थानीय भाजपा संगठन के कार्यकर्ता करेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.