“बंगाल के तर्ज पर यूपी में खेला और खदेड़ा होबे” वाराणसी में समाजवादी पार्टी के रैली में बोलीं ममता बनर्जी

वाराणसी . वाराणसी में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव का आखिरी यानी सातवां चरण 7 मार्च को है , वहीं पूर्वांचल के सात जिलों में सात मार्च को सातवें और अंतिम चरण का मतदान होगा. इसके लिए सभी दलों के दिग्गज नेताओं ने ताकत झोंक दी है. सभी ने वाराणसी को ही केंद्र बनाया है. रिंग रोड स्थित ऐढ़े गांव में गुरुवार को सपा गठबंधन की रैली में अखिलेश यादव, ममता बनर्जी समेत कई नेताओं ने आम वोटर्स को रिझाने की कोशिश की.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि यूपी में खेला होबे. उन्होंने मंच से सपा की जीत और भाजपा को खदेड़ने का नारा लगाया. कहा कि जब मैं बनारस एयरपोर्ट से घाट जा रही थी तो भाजपा के गुंडों ने मेरी गाड़ी रोकी. उन्होंने मेरी कार पर डंडे मारे और कहा कि यहां से वापस जाओ. तब मुझे यह अहसास हुआ कि भाजपा यूपी में कितनी हताश और निराश है. पश्चिम बंगाल में भाजपा हारी है, यूपी में भी भाजपा को हराना है.

ज्यादा गुंडागर्दी हमारे साथ मत करो जोगी जी

ममता बनर्जी ने मंच से बोलते हुए कहा कि ज़्यादा गुंडागर्दी हमारे साथ मत करो जोगी जी. आप दिखाते हैं कि आप एक बड़ा संत हैं लेकिन संत के लिए इज़्ज़त होता है. आप संत नहीं है आप संत का अपमान कर रहे हैं. आप ने क्या काम किया अखिलेश जी ने बताया अभी की काशी को आप ने कैसे तोड़ा-फोड़ा और आप को अखिलेश और गठबंधन को जिताना है तो एक धक्का आप सभी भाई लोग और दो.

कहा नहीं करते आप माता लोगों का सम्मान

ममता बनर्जी ने कहा कि आप लोग माता लोगों को सम्मान नहीं करते हैं. आप के प्रदेश के कितने लोग हमारे बंगाल में रह रहे हैं. कितने लोग हर साल गंगा सागर आते हैं. उनसे पूछिए कितने इज़्ज़त से उन्हें वहां रखा जाता है.

लखीमपुर हिंसा को लेकर कहा किसानों को मारा

ममता बनर्जी ने कहा कि आप लोग माता लोगों को सम्मान नहीं करते हैं. आप के प्रदेश के कितने लोग हमारे बंगाल में रह रहे हैं. कितने लोग हर साल गंगा सागर आते हैं. उनसे पूछिए कितने इज़्ज़त से उन्हें वहां रखा जाता है.

लखीमपुर हिंसा को लेकर कहा किसानों को मारा

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने लखीमपुर किसान ह्त्या का मामला उठाते हुए कहा कि आप ने किसानों को कुचलवा दिया. क्या किसानों का सम्मान नहीं होता है क्या. मंत्री की लड़के ने किसानों को मार दिया क्या किसानों का सम्मान नहीं होता. वहीं कोरोना अकाल में पैदल आने वाले लोग जो मरे उनके लिए कहा कि आप ने क्या किया हमने सबको मुआवज़ा दिया.

यूक्रेन में लोग फसे और मोदी जी कर रहे मीटिंग

यूक्रेन में फसे भारतीय छात्रों को लेकर ममता बनर्जी ने कहा कि यूक्रेन में छात्र फसे हैं और आप चुनावी मीटिंग कर रहे हैं. आप को चाहिए था की पुतिन से बता करते और छात्रों को लेकर आते और आप के पुतिन जी से अच्छे सम्बन्ध थे तो तीन महीने पहले छात्रों को बाहर क्यों नहीं लाये और अब कहते हैं कि अपने-अपने आओ, ये नहीं होगा मोदी जी.

जय श्रीराम के नारे से आपत्ति नहीं

ममता बनर्जी ने कहा कि उन्हें जय श्री राम के नारे से आपत्ति नहीं है. पर जो सही है उसे बोलो न आप उसमे से सीता माता का नाम क्यों हटाते हैं. जय सियाराम कहिया नाकी जय श्रीराम कहिये. हम सब जगह जाते हैं तब हम हिन्दुस्तानी बने हैं. उन्होंने कहा कि योगी और मोदी सरकार झूटी है. पहले कहा कि अच्छे दिन लाएंगे और नोटबंदी कर दी. अच्छे दिन के नाम पर एयरपोर्ट, रेल, बैंक और एलआईसी बेच रहा है. आने वाले दिन में बैंक का पैसा नहीं मिलेगा.

योगी नाम पर योगी काम का भोगी

ममता बनर्जी ने कहा कि अखिलेश जीतेंगे तो हम बंगाल से रिलेशन बनाकर काम करेंगे. योगी को वोट मत देना क्योंकि वो नाम का योगी है वो असल में भोगी है. पूरे प्रदेश में बेरोज़गारी बढ़ रहा है. वो गांव में कह रहे हैं कि जिसका नमक खाय उसे वोट देना कितने दिन खिलाया. हम पूरे साल देता है.

सातवें चरण में भाजपा का होगा सफाया : अखिलेश यादव

अखिलेश यादव ने कहा कि ममता बनर्जी यहां आते ही ना केवल भाजपा हारेगी. आज छठवें चरण का मतदान है. जब सातवें चरण में जब वोट पड़ेगा तब भाजपा का सफाया हो जाएगा. पूर्वांचल की जनता भाजपा को माफ नहीं करेगी बल्कि साफ करेगी। जनता सपा सरकार बनाने का मन बना चुकी है. अखिलेश ने कहा कि हम पूर्वांचल का अभूतपूर्व विकास करेंगे.

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) के प्रमुख शिवपाल यादव ने कहा कि जनता के कहने पर और भाजपा को हराने के लिए सपा प्रमुख अखिलेश यादव के साथ मतभेद खत्म किए हैं. उन्होंने कहा कि अब जनता की बारी है कि भाजपा को सत्ता से हटाएं.

सुभासपा प्रमुख ओम प्रकाश राजभर ने अपने अंदाज में भाजपा पर हमला बोला. उन्होंने महंगाई और बेरोजगारी समेत अन्य मुद्दों पर भाजपा को घेरा. कहा कि जब मैं अरविंद राजभर के नामांकन में जा रहा था तब भाजपा के गुंडों ने हमारे ऊपर जानलेवा हमला किया. मैंने अपने कार्यकर्ताओं से कहा मैं रहूं या न रहूं सामाजिक न्याय के आंदोलन को जारी रखना.