‘ईवीएम बेवफा है’ ईवीएम पर फैली अफवाह, अब सरकार को दोषी ठहरा रहे अखिलेश यादव

ईवीएम बेवफा है. ईवीएम पैक हुए 24 घंटे भी नहीं बीते और विपक्षी दलों ने अपना राग अलापना शुरू कर दिया है. सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ईवीएम को लेकर सरकार पर आरोप लगाया है.


यूपी चुनाव संपन्न हो चुके हैं. 10 मार्च को इसके नतीजे आने वाले हैं लेकिन इससे पहले ही ईवीएम को लेकर आरोप-प्रत्यारोप शुरू हो चुके हैं. अखिलेश यादव ने मंगलवार को ईवीएम पर आरोप लगाया है. उन्होंने दावा किया है कि बनारस में ईवीएम से लैस तीन गाड़ियां पकड़ी गई हैं. 2 गाड़ियां निकल गई, लेकिन एक को सपा कार्यकर्ताओं ने पकड़ लिया है. इस एक अफवाह पर अखिलेश यादव आरोप लगा रहे हैं कि चुनाव में धांधली हो रही है. जबकि इस मामले पर वाराणसी के जिलाधिकारी ने स्पष्ट तौर पर कह दिया है कि सपा कार्यकर्ताओं ने जो गाड़ियां रोकी हैं, उनका चुनाव से कोई लेना देना नहीं है. बावजूद इसके अखिलेश यादव ईवीएम को बेवफा करने में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते हैं. हालात अब यह हो गए हैं विपक्षी दल अफवाहों के वजह से सरकार पर आरोप लगाना शुरू कर दिए हैं.

जानिए क्या है पूरा मामला

दरअसल मंगलवार को प्रशिक्षण हेतु वाराणसी की पहड़िया मंडी में स्थित अलग खाद्य गोदाम में बने स्टोरेज से ईवीएम मशीन को प्रशिक्षण हेतु यूपी कॉलेज ले जाया जा रहा था. इस दौरान सपा कार्यकर्ताओं ने उसे चुनाव में प्रयुक्त ईवीएम बताकर अफवाह फैलाया.

बता दें कि बुधवार को काउंटिंग ड्यूटी में लगे कर्मचारियों की सेकंड ट्रेनिंग है और हैंडसम ट्रेनिंग के लिए यही मशीन हमेशा प्रयोग में ली जाती है. चुनाव में प्रयुक्त हुई मशीनें स्ट्रांग रूम पर में सीआरपीएफ के कब्जे में सील बंद है और उसमें सीसीटीवी की निगरानी है. जिसे सभी राजनीतिक दल के लोग देख रहे हैं. ऐसे में ईवीएम के बेवफा होने का कोई सवाल ही नहीं उठता.