पीएम और सीएम पर विवादित बयान को लेकर EC हुआ सख्त, कांग्रेस प्रत्याशी अजय राय 24 घंटे नही कर पाएंगे चुनाव प्रचार

वाराणसी. चुनाव आयोग के अनुसार विगत दिनों पूर्व विधायक अजय राय द्वारा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर सोशल मीडिया पर टिप्पड़ी किया गया था.इस पर उनके खिलाफ चुनाव आयोग द्वारा नोटिस जारी करते हुए उनसे जवाब माँगा गया था अथवा उनके विरुद्ध फूलपुर थाने में मुकदमा दर्ज किया गया था. उक्त विषय पर चुनाव आयोग द्वारा उन्हें पत्र भेज कर कहा गया कि उनके द्वारा दिए गए विवादित बयान की आयोग कड़ी निंदा करता है. अजय राय, कांग्रेस नेता, जो अब उत्तर प्रदेश के 384-पिंडारा विधानसभा क्षेत्र से उम्मीदवार हैं और उपरोक्त उल्लंघन के लिए उनकी निंदा करते हैं. आयोग, इसके द्वारा भारत के संविधान के अनुच्छेद 324 और इस संबंध में सक्षम अन्य सभी शक्तियों के तहत आदेश देता है कि उन्हें दिनांक 26 फरवरी, 2022 (शनिवार) को सुबह 08:00 बजे से 24 घंटे तक किसी भी सार्वजनिक सभा, सार्वजनिक जुलूस, सार्वजनिक रैलियां, रोड शो और साक्षात्कार, मीडिया में सार्वजनिक भाषण (इलेक्ट्रॉनिक एवं प्रिंट) पर प्रतिबन्ध लगाया जाता है अथवा उन्हें नज़रबंद किया जाता है.

जांच के दौरान दर्ज हुआ था मुकदमा

उप जिलाधिकारी पिंडरा राजीव राय तथा सीओ पिंडरा अभिषेक पांडेय ने उस वक्त बताया कि बीते दिनों कांग्रेस नेता पूर्व विधायक अजय राय के द्वारा एक चौपाल लगाया गया था, जिसका परमिशन नहीं था तथा चौपाल के दौरान पीएम और सीएम को लेकर दिए गए विवादित बयान को लेकर जनता द्वारा प्रार्थना पत्र दिया गया था. जिसके जांच के दौरान पूर्व विधायक अजय राय के ऊपर आज उप जिलाधिकारी पिंडरा राजीव राय के आदेश पर धारा 153 ए, 188, 124ए तथा 269 चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में मुकदमा पंजीकृत किया गया.