“दम हो तो रोक लो राम मंदिर निर्माण” अयोध्या दौरे के दौरान विपक्ष पर बरसे अमित शाह

यूपी में विधानसभा चुनाव कि तैयारियां ज़ोरों पर है. इसी बीच गृहमंत्री अमित शाह शुक्रवार को प्रभु श्री राम के दर्शन करने अयोध्या पहुंचे. यहाँ उन्होंने पूजा अर्चना की तथा मंदिर के पुजारी ने उन्हें पगड़ी पहनाई, साथ ही महंतों ने उन्हें एक गदा भी भेंट की. इस दौरान उन्होंने अयोध्या महंत नृत्य गोपालदास से मुलाकात कर उनका हाल चाल जाना. इसके बाद  गृहमंत्री अमितशाह विपक्ष पर जमकर बरसे.

विपक्ष पर साधा निशाना

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने शुक्रवार को राम मंदिर निर्माण के मुद्दे पर समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि लोगों को अब भी याद है कि किसने ‘कार सेवकों’ पर गोली चलवाई और पूछा कि राम लला को इतने सालों से तम्बू में क्यों रहना पड़ा?

रामलला को इतने सालों तक तम्बू में क्यों रहना पड़ा?: अमित शाह

शाह ने कहा कि, “कांग्रेस, सपा और बसपा ने अपने कार्यकाल के दौरान राम मंदिर निर्माण को रोकने के लिए कई प्रयास किए. क्या आपको याद है कारसेवकों पर गोली किसने चलवाई? उन्हें बुरी तरह पीटा गया, मार दिया गया और सरयू नदी में फेंक दिया गया. उन्होंने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि रामलला को इतने सालों तक तम्बू में क्यों रहना पड़ा? अयोध्या में रामनवमी और दीपोत्सव समारोह को किसने रोका? हमें यह सब याद रखना चाहिए.

सपा के पापों की जड़ें कितनी गहरी हैं: अमित शाह

उत्तर प्रदेश में इत्र निर्माता और सपा के एमएलसी पर पड़े छापे के बारे में बोलते हुए, अमित शाह ने कहा, “’भ्रष्टाचार के इत्र’ की गंध हमें दिखाती है कि सपा के पापों की जड़ें कितनी गहरी हैं. जब उन जड़ों पर हमला किया जा रहा है, तो आप अखिलेश यादव को ‘बीमार’ क्यों महसूस करते हैं?” सूत्रों के अनुसार इससे पहले आज सुबह आयकर विभाग ने इत्र व्यवसायी और समाजवादी पार्टी(सपा) के एमएलसी पुष्पराज जैन और एक अन्य इत्र व्यापारी के परिसरों में कर चोरी के लिए तलाशी शुरू की. कानपुर के इत्र व्यवसायी पीयूष जैन को भी इस महीने की शुरुआत में उनके आवास पर छापेमारी के बाद गिरफ्तार किया गया था, जिसमें बेहिसाब नकदी, सोना और चंदन की लकड़ी बरामद हुई थी.

आगामी यूपी विधानसभा चुनाव के कारण महत्वपूर्ण है यह दौरा

अमित शाह एक दिवसीय अयोध्या दौरे पर पहुंचे थे, जिसकी शुरुआत उन्होंने राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र मंदिर के दर्शन से की. केंद्रीय मंत्री का यह दौरा आगामी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के कारण महत्वपूर्ण है. उत्तर प्रदेश में 2017 के विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी ने 403 सीटों वाली उत्तर प्रदेश विधानसभा में से 312 सीटें हासिल कीं, जबकि समाजवादी पार्टी(सपा) ने 47 सीटें हासिल कीं, बहुजन समाजवादी पार्टी(बसपा) ने 19 सीटें जीतीं और कांग्रेस केवल सात सीटें जीतने का प्रबंधन कर सकी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.