योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर शहर सीट से किया नामांकन, कहा- “डबल इंजन सरकार ने दिया हर एक क्षेत्र में सकारात्मक परिणाम”

ब्यूरो रिपोर्ट प्रगति सिंह

गोरखपुर. योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को गोरखपुर शहरी सीट से नामांकन दाखिल कर दिया. इस दौरान उनके साथ देश के गृहमंत्री अमित शाह भी मौजूद रहे. यह पहली बार है जब योगी आदित्यनाथ विधानसभा चुनाव लड़ रहे हैं. इससे पहले वह सांसद और यूपी विधान परिषद के सदस्य रहे हैं. गोरखपर में छठे दौर में 3 मार्च को मतदान होगा.

नामांकन के दौरान योगी आदित्यनाथ ने जो शपथ पत्र चुनाव आयोग को सौंपा है उसके मुताबिक, यूपी के सीएम के पास 1,54, 94,054 करोड़ की संपत्ति है. इसमें कैश और बैंक बैलेंस भी शामिल है. उनके पास एक सैमसंग का फोन है, जिसकी कीमत 12 हजार रुपए है. इसके अलावा 1 लाख रुपए की रिवॉल्वर और 80 हजार की राइफल भी उनके पास है.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि बीते पांच साल में भारतीय जनता पार्टी की डबल इंजन सरकार ने उत्तर प्रदेश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में हरेक क्षेत्र में खरा उतरने का प्रयास किया है और उसके सकारात्मक परिणाम भी जनता के सामने है. प्रदेश के लोगों को सुरक्षा का माहौल मिला है। उनकी आस्था का सम्मान हुआ है. बिना भेदभाव विकास की परियोजनाओं और शासन की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ जन जन तक पहुंचा है.अब हम विधानसभा चुनाव में एक नई अग्नि परीक्षा में उतर रहे हैं. हमारे पांच साल का कार्यकाल जनता के सामने है. जनता हमारे कार्यों का मूल्यांकन करेगी और सुरक्षा, विकास के पथ पर बढ़ रहे प्रदेश के हित मे भाजपा की प्रचंड बहुमत की सरकार बनाने में योगदान देगी.

सीएम योगी शुक्रवार को शहर विधानसभा क्षेत्र से अपना नामांकन पत्र दाखिल करने से पूर्व महाराणा प्रताप इंटर कॉलेज मैदान में आयोजित नामांकन सभा को संबोधित कर रहे थे. कार्यकर्ताओं में जोश भरते हुए उन्होंने कहा पांच साल तक भाजपा सरकार और संगठन ने मिलकर प्रदेश में सुरक्षा, विकास और सुशासन का परिणाम दिया है.आज कोई भी प्रदेश और देश के नेतृत्व को लेकर नकारात्मक टिप्पणी नहीं कर सकता. राजनीतिक प्रतिद्वंद्विता से परे बीजेपी की सरकार ने हरेक व्यक्ति को सुरक्षा की गारंटी दी है. गरीबों को मकान, शौचालय समेत हर पात्र को कल्याणकारी योजनाओं से लाभान्वित किया है। सीएम ने कहा कि विधानसभा चुनाव में हम एक नई अग्नि परीक्षा में उतर रहे हैं. इसलिए जो परिणाम अपेक्षित है उसके लिए हर कार्यकर्ता खुद भाजपा का सिम्बल बनकर घर घर जाए और प्रचंड बहुमत की जीत में अपना योगदान दे.

अमित शाह ने कराया यूपी में भाजपा की ताकत का अहसास

नामांकन सभा में केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह का स्वागत करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि श्री शाह ने अपने दम पर यूपी में भाजपा की ताकत का एहसास कराया है. उत्तर प्रदेश में भाजपा का संगठन प्रारंभ से ही था. पर, कोई भी संगठन जीवंत होना चाहिए और इस दिशा में सर्वाधिक योगदान अमित शाह का है. वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में अपने दम पर उन्होंने देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश के प्रभारी के रूप में अभूतपूर्व सफलता दिलाई. 2017 के विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को तीन चौथाई सीटें दिला कर उन्होंने बीजेपी की मजबूती का एहसास विपक्षी दलों को कराया. सीएम योगी ने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव में जब महागठबंधन बना तो लोग यह सोचते थे कि अब बीजेपी का क्या होगा. तब श्री शाह कहते थे कि 63 से 65 से कम सीटें हमें नहीं मिलेंगीं. सहयोगी दलों के साथ 64 सीटें जिताकर उन्होंने महागठबंधन को धराशाई कर दिया. मुख्यमंत्री ने कहा कि बीजेपी को दुनिया के सबसे बड़े राजनीतिक दल के रूप में स्थापित करने में श्री शाह का बड़ा योगदान है. 2019 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में जब उन्हें गृह मंत्रालय का जिम्मा मिला तो उन्होंने पहली सौगात कश्मीर से धारा 370 को समाप्त करने की दी.आज धारा 370 समाप्त होने से आतंकवाद का नामोनिशान मिट गया है.पीएम मोदी और गृह मंत्री श्री शाह के नेतृत्व में दूसरी बड़ी सौगात अयोध्या में प्रभु श्रीराम के भव्य मंदिर निर्माण की मिली है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.