“कभी कहते थे 15 मिनट के लिए पुलिस हटाओ…” , ओवैसी को आज सरकार ने दी Z+ सिक्योरिटी

जिस राजनैतिक दल के नेता कहते थे कि “15 मिनट के लिए पुलिस हटाओ तो एक हजार क्या, एक लाख क्या, एक करोड़ नामर्द मिल कर भी कोशिश कर लें तो एक को भी पैदा नहीं कर सकते .”

वहीं गुरुवार को उत्तर प्रदेश में एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी पर हुए हमले के बाद पूरे देश में राजनीति का पारा चढ़ा हुआ है. अपने ऊपर हुए हमले की जानकारी देते हुए असदुद्दीन ओवैसी ने बताया कि मैं किठौर (मेरठ) में एक चुनावी कार्यक्रम के बाद दिल्ली जा रहा था. छिजारसी टोल प्लाजा के पास 2 लोगों ने मेरी गाड़ी पर 3-4 राउंड गोलियां चलाईं. वे कुल 3-4 लोग थे. मेरी गाड़ी के टायर पंक्चर हो गए, मैं दूसरी गाड़ी में वहां से निकला.

वहीं इस घटना पर उत्तर प्रदेश पुलिस ने ऑफिशियल बयान जारी करते हुए बताया कि असदुद्दीन ओवैसी के हमलावरों (एक गिरफ्तार, दूसरा हिरासत में लिया गया) से पूछताछ जारी है. पूछताछ में उन्होंने पुलिस को बताया कि उन्होंने असदुद्दीन ओवैसी के हिंदू विरोधी बयानों से आहत होकर ये हमला किया. इस घटना के बाद ही पूरे देश में राजनीतिक माहौल गर्म हो गया. वहीं भारत सरकार ने AIMIM सांसद असदुद्दीन ओवैसी की सुरक्षा की समीक्षा की और उन्हें तत्काल प्रभाव से सीआरपीएफ की जेड श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गई है.

ओवैसी ने कहा सिक्योरिटी नहीं लूंगा

लोकसभा में अपने भाषण में औवैसी ने आगे कहा कि मैं सरकार से अपील करता हूं कि मुझे z कैटेगरी सिक्योरिटी नहीं चाहिए. मैं आजाद जिंदगी गुजारना चाहता हूं. मुझे अपनी आवाज उठाना है, सरकार किसी की भी हो उनके खिलाफ बोलना है. अगर गोली लगती है तो मुझे कबूल है. इधर, उत्तर प्रदेश में हुई ओवैसी की कार पर फायरिंग की घटना पर 7 फरवरी को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह संसद में विस्तृत जवाब देंगे.

‘मुझे मारने की धमकी दी गई’

वहीं संसद से बाहर आने के बाद मीडिया के बात करते हुए ओवैसी ने अपने ऊपर हुए हमले को लेकर कहा कि उनके शूटर कई लोग हैं. प्रयागराज में हाल ही में एक तथाकथित ‘धर्म संसद’ आयोजित की गई, जहां लोगों ने खड़े होकर मुझे मारने की बात कही. सरकार इन तत्वों के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं कर रही है?

Leave a Reply

Your email address will not be published.