“अल्लाह के घर जन्नत में बहुत सारी हूरें मिलेंगी, बीवी का वहां क्या काम?” ATS से बोला गोरखपुर मंदिर आरोपी मुर्तजा

मेरी एक टांग नक़ली है मैं हॉकी का बहुत बड़ा फैन हूं… बहुत पहले किसी फिल्म का यह डायलॉग आपने सुना होगा. अब आपको इसे रियल में देखने के लिए गोरखपुर जाना होगा. जहां गोरखनाथ मंदिर पर हमला करने वाला मुर्तजा अब्बासी अब ऐसे ही कुछ डायलॉग बाजी कर रहा है. वह अब तक ATS के लिए एक पहेली बना हुआ है. मुर्तजा के पिता उसे दिमागी तौर पर बीमार साबित करने में लगे हैं. लेकिन ATS को लग रहा है कि वह बेहद शातिर है. गजब की माया है कि एक विशेष कौम के लोग जब किसी देश विरोधी घटना में आरोपी साबित होने ही वाले होते हैं कि झट से कोई शक्तिमान आकर उन्हें बचा लेता है.वे तुरंत मानसिक रोगी हो जाते हैं. विक्षिप्त हो जाते हैं.

आईआईटी मुंबई से केमिकल इंजीनियर करने वाले मुर्तजा से आज ATS ने पूछताछ की है. पूछताछ के दौरान मुर्तजा ने जितने भी सवालों के जवाब दिए हैं. उसे लग रहा है कि वह झूठ नहीं बोल रहा है. अब ATS को किसी अंतिम निर्णय तक पहुंचने में मुश्किल आ सकती है. लेकिन मुर्तजा ने जो अब तक जवाब दिए हैं. उससे उसकी पढ़ाई का ज्ञान कम, लेकिन मजहबी ज्ञान ज्यादा है. या यूँ कहें कि इस्लामिक ज्ञान ज्यादा है.

सूत्रों के अनुसार मुर्तजा से जब शादी और फिर तलाक के बारे में सवाल किया गया तो उसने कहा- “अल्लाह के घर में यानी की जन्नत में बहुत सारी हूरें मिलेंगी वहां बीवी का क्या काम? अल्लाह के घर जाना है तो सब कुछ छोड़ना होगा. मल्टीनेशनल कंपनी की नौकरी छोड़ गोरखपुर आना फिर परिवार और समाज में किसी से मतलब नहीं रखना और कमरे में अकेले रहने के सवालों पर मुर्तजा तपाक से बोला कि अल्लाह के घर में सिर्फ अल्लाह सुनिए… अल्लाह से मतलब रखिए. अल्लाह के ही बताए रास्ते पर चलिए फिर जन्नत मिलेगी.

हालांकि ATS टीम लगातार इस मामले की परत दर परत खोलकर उसकी तह तक पहुंचने में जुटी हुई है. साथ ही PGI और KGMU जैसे संस्थाओं के डॉक्टरों के पैनल बोर्ड से ATS मुर्तजा का मेडिकल चेकअप कराने की भी तैयारी कर रही है. जिससे कि यह क्लियर हो सके कि इतनी बड़ी वारदात और उसके जीवन में भरे जहर की असल वजह क्या है. फिलहाल ATS उसके बैंक खातों को ब्लॉक कर उसके सभी ट्रांजैक्शन खंगाल रही है.

इस्लामिक संगठनों को भेजता था पैसे

इस मामले में जैसे-जैसे जांच आगे बढ़ रही है, वैसे ही हर रोज इस केस में नए खुलासे भी हो रहे हैं. मुर्तजा के बैंक ट्रांजैक्शन भी सामने आए हैं. दावा किया जा रहा है कि सुरक्षा एजेंसियों ने जून 2021 में क्रेडिट कार्ड से मुर्तजा द्वारा किए गए ट्रांजैक्शन को ट्रैक किया है. जिससे पता चला है कि मुर्तजा कई इस्लामिक संस्थाओं को पे-पाल (PAY PAL) ऐप के जरिए विदेश में पैसे भेजता था. जून 2021 में क्रेडिट कार्ड से एक के बाद एक कई ट्रांजैक्शन किए गए हैं. सुरक्षा एजेंसियों को कई इस्लामिक संस्थाओं में ट्रांजैक्शन का ब्यौरा मिला है. जिसमें 22,000,  700, 16594, 16622 और 22907 रूपए के ट्रांजैक्शन का ब्यौरा मिला है. बीते 4 से 5 महीने में समीउल्लाह नाम के व्यक्ति के खाते में कई बार हजारों रुपए भेजे थे.