“अपनी बेटी मेरे पास भेज दो, नहीं तो पूरे परिवार का सर तन से जुदा कर दूंगा” मोहम्मद रहीस ने हिन्दू पिता को दी धमकी

पहले इस्लामी कट्टरपंथी चोरी-छुपे लव-जिहाद को बढ़ावा देते थे. लेकिन पिछले कुछ दिनों से इनका अस्तित्व सामने आ गया है. अबे ये खुलेआम उत्पात मचाने लगे हैं. झारखंड में अंकिता सिंह को जलाकर मारने और दिल्ली के संगम विहार में नैना मिश्रा को गोली मारने की घटना के बीच यूपी के बागपत से ऐसी ही जोर-जबरदस्ती की एक घटना सामने आई है.

बागपत में मोहम्मद रहीस नाम का लड़का एक हिंदू लड़की के माता-पिता पर अपनी बेटी को उसके पास भेजने का लगातार दबाव बना रहा है. बेटी को नहीं भेजने पर उसने पूरे परिवार का ‘सर तन से जुदा’ करने की धमकी दी है. पिता ने थाने में तहरीर देकर सख्त कार्रवाई की माँग की है.

लड़की के पिता ने आरोप लगाया है कि मोहम्मद रहीस उन पर अपनी बेटी को उसके पास भेजने के लिए मानसिक दबाव बना रहा है. जब उन्होंने मना किया तो उनकी बेटी की अश्लील तस्वीर सोशल मीडिया पर डाल दी. साथ ही परिवार को हत्या की धमकी दी है.

लड़की के पिता का कहना है कि वे बागपत के खेकड़ा थाना क्षेत्र के रहने वाले हैं. 18 जुलाई को वे अपनी पत्नी के साथ स्कूटर से दिल्ली की ओर जा रहे थे. इसी बीच गाजियाबाद का रहने वाला मोहम्मद रहीस नाम का मुस्लिम लड़का उन्हें रास्ते में रोक लिया.

लड़की के पिता का कहना है कि रहीस उनकी पत्नी से बोला कि ‘अपनी बेटी को मेरे पास भेज दो, नहीं तो तुम्हारा और तुम्हारे पति का सर तन से जुदा कर दूँगा’. इसके बाद से उनका परिवार डरा हुआ है.

लड़की के पिता बताया कि हंगामा देखकर मौके पर इकट्ठा हो गए. भीड़ को देखकर लड़का वहाँ से भाग गया. इसके बाद से वह लगातार उनके परिवार पर लड़की को भेजने का दबाव बना रहा है. 23 अगस्त को उसने अपने ह्वॉट्सएप स्टेटस पर उसकी बेटी की अश्लील तस्वीर लगा दी.

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, पीड़ित पिता ने बताया कि उसकी बेटी एक स्कूल में पढ़ाती थी. वहीं, वह लड़का शुक्र बाजार में ठेला लगाता था. 30 मई को उसकी बेटी बिना बताए लापता हो गई थी. हिंदू संगठनों के हंगामे के बाद पुलिस ने उनकी बेटी को एक महीने बाद बरामद कर परिजनों को सौंप दिया था.

उसके बाद से वह युवक लड़की को उसके पास भेजने का दबाव बना रहा है. इसके साथ ही परिजनों को हत्या की धमकी दे रहा है. स्थानीय लोगों के अनुसार मुस्लिम लड़के साथ पीड़ित की बेटी का प्रेम प्रसंग है. पीड़ित पिता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपित के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है.