“बीवी जिद्दी हो जाए, तो उसके साथ 3 दिन न सोएं, करें पिटाई”, हिजाब पर ज्ञान बांटने वाली महिला मंत्री ने मर्दों को बांटे टिप्स

हिजाब पर ज्ञान बांटने पर महिला की चारों ओर हो रही है आलोचना

हिजाब विवाद पर लोग एक से बढ़कर एक ज्ञान देते हुए फिर रहे हैं. ऐसे में मलेशिया की के महिला मंत्री ने इस मुद्दे पर अजीबोगरीब विवादित बयान दिया है. जिसकी चौतरफा आलोचना हो रही है. महिला मंत्री ने मर्दों को सलाह दी है कि पत्नी यदि उचित व्यव्हार न करे, तो उसकी पिटाई करें. साथ ही यदि बीवी अधिक जिद्दी हो,तो उसके साथ 3 दिन तक न सोएं.

मलेशिया के इस महिला मंत्री का नाम सिती जैला मोहम्मद युसौफ है. वे पैन इस्लामिक मलेशियन पार्टी की सांसद हैं साथ ही वे परिवार और सामुदायिक विकास विभाग की उपमंत्री हैं. महिला मंत्री ने इंस्टाग्राम पर दो मिनट का एक वीडियो पोस्ट किया. उन्होंने इसे ‘मदर टिप्स’ का नाम दिया. इस वीडियो में उपमंत्री ने जिद्दी पत्नियों को अनुशासित करने के लिए पतियों को ‘टिप्स’ दिए हैं. इसके बाद उन्होंने महिलाओं को भी पति के साथ रहने के तौर-तरीकों के बारे में ‘सलाह’ दी है.  

वीडियो में वह कहती हैं कि पति पहले अपनी जिद्दी पत्नियों के साथ बात करके उन्हें अनुशासित करें. अगर उनकी पत्नियाँ फिर भी अपना व्यवहार नहीं बदलती हैं, तो पति तीन दिनों तक उनके साथ नहीं सोएँ. सिती जैला ने आगे कहा कि इसके बावजूद अगर पत्नी सलाह लेने से इनकार करती है या अलग सोने के बाद भी अपना व्यवहार नहीं बदलती हैं, तो पति सख्ती दिखाए. वे अपनी पत्नियों की पिटाई करें. उनके इस वीडियो के बाद उन पर घरेलू हिंसा (Domestic Violence) को सामान्य करने का आरोप लगाया जा रहा है. लोगों का कहना है कि वह मर्दों को अपनी पत्नियों को पीटने के लिए कहकर घरेलू हिंसा को बढ़ावा दे रही हैं.

अपने शौहर के कहने पर बातचीत करें महिलाएं

मंत्री सिती जैला ने महिलाओं को सलाह दी कि अगर वे पतियों का दिल जीतना चाहती हैं, तो वे अपने शौहर के कहने पर ही बातचीत करें. सिती ने महिलाओं से कहा कि अपने शौहर से तब बात करें जब वे शांत हों, खाना खा चुके हों, प्रार्थना कर चुके हों और आराम कर रहे हों. उनका कहना था कि जब वह बोलना चाहती हैं, तो पहले अपने शौहर से इजाजत लें. मलेशिया की मंत्री की इन बयानों को लेकर उनकी हर तरफ आलोचना हो रही है और कई संगठनों ने कहा है कि उन्हें अब अपने पद से इस्तीफा देना चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *