कैसे मान लें कि ‘आतंकवाद का कोई धर्म नहीं होता !’ GDS बिपिन रावत के निधन की खबर पर इस्लामी कट्टरपंथियों ने किया ‘हाहा’ रियेक्ट

पुरानी फिल्मों में जब किसी नाजायज बेटे का बाप मर जाता था, तो उस नाजायज बेटे को बड़ी ख़ुशी होती थी. क्योंकि मृतक ने उस नाजायज बेटे की मां के साथ ………………….

सीडीएस जनरल बिपिन रावत का तमिलनाडु के कुन्नूर में हेलिकॉप्टर दुर्घटना में बुधवार देर शाम निधन हो गया. इस दुर्घटना में उनकी पत्नी समेत 13 लोगों के निधन की खबर है. हेलिकॉप्टर में कुल 14 लोग सवार थे. उनके निधन के खबर से पूरे हिंदुस्तान में शोक का माहौल है. विभिन्न राजनेताओं ने इस दुर्घटना में मृतकों को श्रद्धांजली दिया है.

यद्यपि तीनों सेनाओं के अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत किसी भी राजनैतिक पार्टी से सम्बन्ध नहीं रखते थे और न ही रख सकते थे. इसके बावजूद देश का एक विशेष समुदाय को उनके निधन पर ख़ुशी महसूस हो रही है. इस दुःख भरी घटना की खबर पर कुछ शांतिप्रिय समुदाय द्वारा “हाहा” का रिएक्शन दिया जा रहा है. NDTV की खबर पर एक – दो नहीं बल्कि खबर लिखे जाने तक दो सौ से ज्यादा लोगों ने ‘हाहा’ का रिएक्शन देकर जश्न मनाया. नीचे दी गई तस्वीरों में आप उनकी ख़ुशी और उनकी मनोदशा देख सकते हैं.

यह तो वही हाल हो गया कि जैसा पुरानी फिल्मों में जब किसी नाजायज बेटे का बाप मर जाता था, तो उस नाजायज बेटे को बड़ी ख़ुशी होती थी. क्योंकि मृतक ने उस नाजायज बेटे की मां के साथ ………………….

केवल NDTV ही नहीं The Print और ऐसे कई वामपंथी चैनल की खबरों पर इस विशेष समुदाय ने ‘हाहा’ रियेक्ट किया है. अब इससे किसकी रगों में कितनी देशभक्ति है, यह साफ़ दिख रहा कि देश की सेना के अध्यक्ष का निधन हो गया. जिसके बाद इनलोगों ने जश्न मनाना शुरू कर दिया.

One thought on “कैसे मान लें कि ‘आतंकवाद का कोई धर्म नहीं होता !’ GDS बिपिन रावत के निधन की खबर पर इस्लामी कट्टरपंथियों ने किया ‘हाहा’ रियेक्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.