घर वापसी: दो परिवारों के 15 सदस्यों ने फिर से ओढ़ा भगवा, गंगाजल से शुद्धि के बाद देवी-देवताओं की करायी गई पूजा-अर्चना

2021 घर वापसी के मामले में अच्छे पोजीशन पर रहा है. ढेरों मुसलमानों और ईसाईयों ने हिन्दू धर्म अपनाया है. नए साल के पहले दिन ही यूपी के बागपत से एक अच्छी खबर आई है. बताया जा रहा है कि बागपत में 2 परिवारों के 15 सदस्यों ने ईसाईयत छोड़ फिर से हिन्दू धर्म अपनाया है. 5 साल पहले ब्रेनवाश कराने के बाद ईसाई बने परिवार के सदस्यों ने भगवा ओढ़ हिन्दू धर्म में वापसी किया है. हिन्दू संगठन ने इन लोगों का गंगाजल से शुद्धिकरण कराकर उनके घरों में हिन्दू देवी-देवताओं कि तस्वीर और मूर्तियां रखवाने के बाद पूजा भी कराया.

ये भी पढ़ें: बाबरी मस्जिद विध्वंस: कौन थे कोठारी बंधु? जिन्होंने बाबरी मस्जिद के गुम्बद पर सबसे पहले फहराया था भगवा झंडा

सुदर्शन न्यूज़ की खबर के अनुसार, स्वदेशी जागरण मंच के जिला संयोजक अरविंद भोला व टीम बजाते रहो राष्ट्रवादी ग्रुप के सदस्यों ने बताया कि उन्हें पता चला था कि शिकोहपुर गांव के दो परिवार के 15 सदस्यों ने पांच साल पहले हिंदू धर्म छोड़कर ईसाई धर्म अपना लिया था. तीन दिन से वह शिकोहपुर गांव में ही डेरा डाले हुए थे और गणमान्य लोगों की मदद लेकर संबंधित दोनों परिवार के सदस्यों के संपर्क में थे.

ये भी पढ़ें : भए प्रकट कृपाला: 72 साल पहले आधी रात भाइयों संग प्रकट हुए रामलला, अलौकिक रौशनी से जगमग हुआ परिसर

दोनों परिवारों के मुखिया देवेंद्र विश्वकर्मा और रामअवतार प्रजापति से बातचीत कर उन्हें हिंदू धर्म के बारे में जानकारी देकर धर्म वापसी करने को लेकर समझाया जा रहा था. आखिर, दोनों परिवार के सदस्य हिंदू धर्म में वापसी को तैयार हो गए.

गुरुवार को उन्होंने दोनों परिवार के सभी सदस्यों का गंगाजल से शुद्धिकरण करते हुए शपथ दिलाते हुए हिंदू धर्म में वापसी कराई. उन्हें हिंदू देवी-देवताओं की तस्वीर, पुस्तक और मूर्तियां सौंपी गई और पूजा-अर्चना भी कराई. उनके घरों से ईसाई धर्म की पुस्तकों को हटा दिया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.