बुर्के में महिला ने कैब ड्राईवर को मारा चाकू, पुलिस से भीड़ते हुए विडियो हुआ वायरल, देखें Video

हिजाब विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा. ऐसे में सोशल मीडिया पर एक विडियो वायरल हो रहा है. जिसमें बुर्का पहने एक विदेशी महिला ने चाकू मारकर एक कैब ड्राईवर को घायल कर दिया है. जिसके बाद अफरातफरी मच गई है. घायल व्यक्ति को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है. हालांकि राहत की बात यह है कि व्यक्ति की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है. यह पूरी घटना CCTV कैमरे में कैद हो गई है.

बवाल बढ़ने पर जब महिला पुलिसकर्मी ने जब बुर्का पहनी महिला को किनारे ले जाने की कोशिश की तो वह पुलिस से भी हाथापाई पर उतर आई. हालाँकि गुरुग्राम पुलिस आरोपित महिला को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है. महिला मिस्र की नागरिक बताई जा रही है. वहीं सेक्टर 15 सिविल लाइन के इंस्पेक्टर वेद प्रकाश ने बताया कि अभी तक विदेशी महिला पुलिस को जाँच में सहयोग नहीं कर रही है. महिला की भाषा पुलिस समझ नहीं पा रही है.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, गुरुग्राम के राजीव चौक पर मंगलवार सुबह करीब 11 बजे बुर्का और हिजाब पहने हुई एक विदेशी महिला ने चौक पर खड़े कैब ड्राइवर को चाकू मारकर घायल कर दिया. वारदात को अंजाम देने के बाद महिला वहाँ से भागने लगी. वहीं घायल कैब चालक भी महिला के पीछे दौड़ा. जैसे चौक के पास तैनात पुलिसकर्मियों को घटना की जानकारी मिली तो वह भी मौके पर पहुँच कर बड़ी मुश्किल से महिला को काबू किया. वह पुलिस कर्मियों से भी हाथापाई करने लगी थी.

वहीं पीड़ित कैब ड्राइवर रघुराज ने बताया, “मैं गाड़ी चलाता हूँ. मैंने सवारी बैठा ली. ये महिला पीछे से आई तो मैंने इससे पूछा कि क्या काम है तो इसने मुझे चाकू मारा और गायब हो गई. इसने मुझसे कुछ बात भी नहीं की. मुझे कुछ नहीं पता कि कौन है क्या करती है.”

घटना के बारें में कुछ मीडिया रिपोर्ट्स  में दावा किया जा रहा है कि महिला ने कैब ड्राइवर को रोका और जैसे ही कैब ड्राइवर ने पूछा कि आपको कहाँ जाना है? तो महिला ने चाकू निकालकर उसके कंधे पर वार कर दिया. वार करने के बाद महिला भागने लगी. कैब ड्राइवर ने भागती हुई महिला को पकड़ने की कोशिश की. तभी कैब ड्राइवर को आसपास के लोगों ने पकड़ लिया. फिलहाल हमले की वजह अभी पता नहीं चल सकी है. पुलिस की एक टीम महिला को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.