पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह भाजपा में हो सकते हैं शामिल, पार्टी का करेंगे भाजपा में विलय

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह अगले हफ्ते राज्य में भाजपा में शामिल होंगे. ताजा घटनाक्रम की पुष्टि पंजाब लोक कांग्रेस (पीएलसी) के प्रवक्ता ने की. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सिंह अपनी नवगठित पार्टी का बीजेपी में विलय भी करेंगे.

खबर है कि वह दिल्ली में पार्टी जेपी नड्डा और अन्य नेताओं की मौजूदगी में भाजपा में शामिल होंगे. हालांकि, अमरिंदर सिंह की ओर से कोई आधिकारिक जानकारी नहीं है. हाल ही में सिंह ने 12 सितंबर को भाजपा नेता और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी. उन्होंने इस बारे में ट्वीट किया था. उन्होंने ट्विटर पर लिखा, “राष्ट्रीय सुरक्षा से संबंधित विभिन्न मुद्दों, पंजाब में नार्को-आतंकवाद के बढ़ते मामलों और पंजाब के समग्र समग्र विकास के लिए भविष्य के रोडमैप पर चर्चा की.”

कैप्टन का पॉलिटिकल करियर

सिंह ने पिछले साल कांग्रेस छोड़ने के बाद पिछले साल पंजाब लोक कांग्रेस (पीएलसी) का गठन किया था. कैप्टन ने 2002 से 2007 तक उसके बाद 2017 से 2021 तक पंजाब के सीएम के रूप में कार्य किया. सिंह ने 1980 में अपने स्कूल के दोस्त राजीव गांधी की मदद से लोकसभा जीतकर राजनीति में पदार्पण किया. अपने राजनीतिक जीवन में, उन्होंने पांच बार पंजाब विधानसभा चुनाव जीता. उन्होंने पटियाला (शहरी) के लोगों की तीन बार, तलवंडी साबो और समाना के लोगों की एक-एक बार सेवा की. उन्होंने 1999 से 2022, 2010 से 2013 और 2015 से 2017 तक तीन बार पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के रूप में भी कार्य किया.