55 साल के कुर्बान ने 9 साल की बच्ची को खरीदकर बनाया अपनी बेगम, इस्लाम में जायज है ऐसा निकाह ?

इस्लाम को लेकर बवाल मचा हुआ है. ऐसे में अफगानिस्तान से एक विडियो वायरल हो रहा है. जिसमें एक छोटी बच्ची को उसके अम्मी – अब्बू एक बुजुर्ग के हाथो बेच देते हैं. ये विडियो सीएनएन द्वारा रिकॉर्ड किया गया है.

photo credit- CNN

सीएनएन ने दावा किया है कि बच्ची के पिता ने उसे इसलिए बेचा कि वो बाकि घरवालों का पेट भरना चाहते थे. हीं बच्ची के खरीददार ने टीवी पर बताया था कि वो खुद 55 साल का है और उसने 9 साल की लड़की को अपने लिए खरीदा है. वह उसके बड़े होने का इंतजार करेगा. रिपोर्ट के अनुसार खरीददार का नाम कुर्बान है, जिससे बच्ची के अब्बू ने कहा था कि वो उनकी बेटी का ख्याल रखे. हालाँकि कुर्बान ने जवाब दिया कि अब उसकी पत्नी है उसका जो मन होगा वो वह करेगा. रिपोर्ट के अनुसार, कुर्बान की यह दूसरी शादी थी. पहली बीवी से उसे 4 बेटियाँ और एक बेटा है.

CNN द्वारा रिकॉर्ड किया यह वीडियो क्लिप सोशल मीडिया पर खूब शेयर हो रहा है. लोग ध्यान दिला रहे हैं कि कैसे 55 साल के बुजुर्ग ने 9 साल की बच्ची को सेक्स के लिए खरीदा. अभिजीत मजूमदार लिखते हैं, “एक बार बच्ची का चेहरा देखो… ये सब हलाल है. ये लोग धरती पर चलने वाले सबसे बुरे जीव हैं.”

बता दें कि इस्लाम में पीरियड के बाद लड़की से निकाह को अक्सर जायज बताया जाता रहा है. लेकिन कुछ लोग लड़कियों से शादी की उम्र 9 साल भी बताते हैं. 2017 में देवबंद के मौलाना ने शरीयत का हवाला देकर लड़की की शादी की सही उम्र को 9 साल और लड़कों की निकाह की सही उम्र 14 साल बताई थी.

रही बात लड़की के साथ सेक्स की तो ईरान के संस्थापक अयातुल्लाह खुमैनी आगे कहते हैं, “लड़की के 9 साल के होने से पहले सेक्स नहीं करना चाहिए. भले ही वह स्थाई या अस्थाई निकाह ही क्यों न हो. इसके अलावा अन्य तमाम हरकतें की जा सकती हैं जिसमें कामुक टच, गले लगाना और पैरों के बीच में प्राइवेट पार्ट रगड़ना शामिल है. यहाँ तक कि ये सब किसी दूध पीती बच्ची के साथ भी जायज है.”