International Women’s Day: वास्तविक सशक्तिकरण तभी होगा जब आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर होंगी महिलाएं

महिला दिवस का आयोजन सिर्फ रस्म अदायगी भर ना जाए. वैसे यह शुभ संकेत है कि महिलाओं में अधिकारों के प्रति समझ विकसित हुई है अपनी शक्ति को स्वयं समझकर जागृति आने से ही महिला घरेलू अत्याचारों से निजात पा सकती हैं तभी महिला दिवस की सार्थकता सिद्ध होगी. मुझे लगता है महिला दिवस का औचित्य तब तक प्रमाणित नहीं होता जब तक कि सच्चे अर्थों में महिलाओं की दशा नहीं सुधरती. महिला नीति है. लेकिन क्या उसका क्रियान्वयन गंभीरता से हो रहा है. क्या उनके अधिकार प्राप्त हो रहे हैं? वास्तविक सशक्तिकरण तभी होगा जब महिलाएं आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर होंगी और उनमें कुछ करने का आत्मविश्वास जागेगा.

महिलाओं की समस्या महिलाएं ही समझती हैं: कोमल गुप्ता

इस बार अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस 2022 की थीम एक स्थाई कल के लिए लैंगिक समानता रखी गई है. (आने वाले कल की महिला) 1914 में, जर्मनी में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस 8 मार्च को आयोजित किया गया था और अब यह हमेशा 8 मार्च को सभी देशों में आयोजित किया जाता है. जर्मनी में 1914 का दिन महिलाओं के मतदान के अधिकार के लिए समर्पित था. अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर हम सभी को एकजुट होकर शिक्षित एवं संपन्न महिलाओं को चाहिए कि वह पिछड़ी महिलाओं के लिए जो भी कर सकती हैं करें. विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं की दशा सुधारने पर विशेष ध्यान दिया जाना आवश्यक है, क्योंकि महिलाओं की समस्या महिला ही भलीभांति समझती हैं. इसलिए शिक्षित एवं संपन्न महिलाएं इस दिशा में विशेष योगदान दे सकती हैं. निश्चित ही इस संदर्भ में पुरुषों को भी अपने कर्तव्य के प्रति सजग रहना होगा.

“मैं कर सकती हूं, मैं करुँगी”

हमें अपने लिए सिर्फ इतनी सी बात समझनी है कि अपनी प्रतिभा दक्षता क्षमता अभिरुचि और रुझान को पहचानना है. ईश्वर ने हमें जिन गुणों से नवाजा है, उन्हें निकालना है. यंत्र वक्त कार्य करने के बजाय स्वयं को प्रसन्न रखने के लिए काम करना है. आपको अपना परिवेश अपने आप पसंद मिलेगा. दूसरे शब्दों में हर काम को प्रसन्नता से करें. अपनी क्षमता का पूरा उपयोग करें. अपने आपसे कहे कि मैं कर सकती हूं, मैं करूंगी, मैं कुछ बनकर ही रहूंगी, मैं प्रण लेती हूं. अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के दिन 7days फाउंडेशन के परिवार की ओर से शुभकामनाएं देती हूं |

-कोमल गुप्ता, फाउंडर (7 डेज फाउंडेशन)