होली के दिन रंगों से खेलते वक़्त इन बातों का रखें ध्यान, नहीं होगा त्वचा को कोई नुकसान

18 मार्च को पुरे देश में रंगों का त्योहार होली बड़े धूम-धाम से मनाया जाएगा. इस दिन लोग रंग और अबीर से होली खेलते हैं. लेकिन बाज़ार में हर जगह केमिकल युक्त रंगों की भरमार है. बहुत से रंग के पैकेट्स पर हर्बल कलर का लेबल भी लगा होता है लेकिन वास्तव में वे भी हर्बल नहीं होते. इन रंगों को गाढ़ा व चमकदार बनाने के लिए इनमें बहुत से केमिकल, धातु, रेत के चमकीले कण, कांच का बुरादा व सिलिका आदि मिलाया जाता है. ये रंग ना सिर्फ आपकी त्वचा को नुकसान पहुंचाते हैं बल्कि इन रंगों की वजह से आप कई गंभीर बीमारियों का शिकार हो सकते हैं. आप चाहें तो घर पर प्राकृतिक रंग भी बना सकते हैं. होली के दिन रंगों से खेलते वक़्त इन बातों का विशेष ध्यान रखें-

1. आंखों में रंग न जाए इसके लिए चश्में लगाकर ही होली खेले. इससे आंखों को किसी भी तरह के नुकसान से बचाया जा सकता है.

2. होली खेलने से पहले पूरे शरीर और बालों में तेल लगा लें, इससे रंग स्किन पर चिपकता नहीं है और आसानी से साफ हो जाता है.

3. शरीर के किसी हिस्से में चोट लगी हो या खुला घाव हो तो उसे अच्छी तरह ढंक कर रखें.

4. नाखूनों को नुकसान से बचाने के लिए नेल पेंट या पेट्रोलियम जेली लगा लें. इससे नाखून सुरक्षित रहते है.

5. होली का रंग निकालने के लिए त्वचा को रगड़े नहीं, बल्कि पानी के नीचे कुछ देर खड़े रहें. हल्के साबुन का इस्तेमाल करें.

6. घर में ही नींबू, दही, हल्दी और थोड़ा से आटे को मिक्स कर लें व इसे साबुन की तरह शरीर पर लगाएं.

7. होंठो पर वैसलीन या लिपबाम लगाएं.

8. स्किन पर सनस्क्रीन जरूर लगाएं.