गर्मी के मौसम में आहार-विहार का पालन करना फायदेमंद, इनके सेवन से शरीर रहता है स्वस्थ

पड़ाव पानी टंकी के सामने बाल चिकित्सालय में एक स्वास्थ्य गोष्ठी का आयोजन हुआ. गोष्ठी में नीमा प्रदेश प्रवक्ता ,सह संयोजक, चिकित्सा प्रकोष्ठ भाजपा डॉ० ओ पी सिंह ने बताया कि गर्मी के मौसम में आहार-विहार का पालन करना शरीर की सुरक्षा के लिए बहुत ही जरूरी है. इस मौसम में ऐसे आहार को शामिल करना चाहिए, जो मधुर, तरल, हल्का, सुपाच्य, ताजा और शीतल गुण वाले हों. भोजन में ताजी चपाती, छिलके वाली मूंग की दाल, लौकी, परवल, नेनुआ, धनिया, पोदीना, हरी-ताजी साग-सब्जियां, ताजा दही और मौसमी फलों का सेवन करना चाहिए. कच्चे आम को आग में भूनकर बनाया गया मीठा पन्ना, नींबू-शक्कर की मीठी शिकंजी, गुलकंद, पेठा, दूध-पानी की मीठी लस्सी गर्मी में फायदेमंद है.

गर्मी के मौसम में सुबह टहलना फायदेमंद है. सुबह सूर्योदय के पहले उठकर नित्य कर्मो से निवृत्त होकर तीन से चार किलोमीटर टहलने से लाभ होता है. चेहरा तेजस्वी, आंखों की ज्योति और सुंदरता बनी रहती है. पेट साफ रहता है, कब्ज नहीं बनता है, भूख खुलकर लगती है, पूरे दिन चुस्ती-फूर्ती बनी रहती है. गोष्ठी में डॉ० दीपक पटेल, संजीव प्रजापति, प्रकाश साहनी, हाजी अब्दुल रसीद, जैद खान, अरुण पटेल, राजकुमार साहनी, प्रदीप श्रीवास्तव, प्रमोद श्रीवास्तव इत्यादि लोग थे.