शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ विभाग ने सक्रिय किए Covid 19 स्टेटिक बूथ , एंटीजन व RTPCR जांच होगी निशुल्क

वाराणसी. कोविड की संभावित तीसरी लहर के प्रबंधन की तैयारियों को लेकर प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग पूर्ण रूप से सक्रिय हो गया है. विभाग ने सभी व्यवस्था व सुविधाओं को दुरुस्त करने के लिए अपनी प्रक्रिया तेज कर दी है. इसी क्रम में कोरोना जांच के लिए जनपद में पूर्व से संचालित स्टेटिक बूथ पुनः सक्रिय किए जा रहे हैं. वहीं सीएमओ ने अपील की है कि कोविड से मिलते जुलते लक्षण भी दिखे तो तत्काल कोविड की जांच कराएं.

मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉ संदीप चौधरी ने बताया कि दूसरी लहर में कोरोना जांच के लिए स्टेटिक बूथों ने अहम भूमिका निभाई थी.इससे जनपदवासियों को भी काफी सहूलियत मिली. जनपद में पूर्व से ही शहरी व ग्रामीण इलाकों में कुल 14 स्टेटिक बूथ संचालित किए जा रहे हैं जो पुनः सक्रिय हो गए हैं.

इसी क्रम में शहर के छह स्टेटिक बूथ यथा स्वामी विवेकानंद मेमोरियल हॉस्पिटल भेलूपुर, लाल बहादुर शास्त्री राजकीय चिकित्सालय रामनगर, शहरी सीएचसी शिवपुर, एसएसपीजी हॉस्पिटल कबीरचौरा, ईएसआईसी हॉस्पिटल पाण्डेयपुर व स्टेटिक बूथ बीएचयू शामिल हैं. जबकि ग्रामीण में आठ स्टेटिक बूथ यथा पीएचसी बड़ागांव, पीएचसी काशी विद्यापीठ, पीएचसी सेवापुरी, पीएचसी पिंडरा, पीएचसी हरहुआ, पीएचसी चिरईगांव, सीएचसी चोलापुर एवं सीएचसी अराजीलाइन शामिल हैं.

जिला सर्विलान्स अधिकारी व एसीएमओ डॉ एसएस कन्नौजीय ने बताया कि इन सभी केन्द्रों में एंटीजन व आरटीपीसीआर जांच की निःशुल्क सुविधा मौजूद है. जबकि स्टेटिक बूथ बीएचयू में ट्रू-नाट, सीबी-नाट, एंटीजन व आरटीपीसीआर जांच की निःशुल्क सुविधा मौजूद है. स्वामी विवेकानंद मेमोरियल हॉस्पिटल भेलूपुर, एलबीएस हॉस्पिटल रामनगर, शहरी सीएचसी शिवपुर एवं एसएसपीजी हॉस्पिटल कबीरचौरा में सुबह आठ बजे से लेकर दोपहर दो बजे तक जांच करवा सकते हैं. जबकि अन्य केन्द्रों पर सुबह 10 बजे से शाम चार बजे तक जांच की सुविधा मौजूद रहेगी.

सीएमओ ने जनपदवासियों से अपील की है कि जिन भी व्यक्तियों में कोविड के मिलते जुलते लक्षण दिखाई दे रहे हैं तो वह अपने नजदीकी चिन्हित स्टेटिक बूथों पर जाकर कोरोना की निःशुल्क जांच करा सकते हैं. इसके साथ ही जो लोग कहीं बाहर से आ रहे हैं और जांच में पॉज़िटिव आने पर वह अपनी ट्रेवल हिस्ट्री व निकट संपर्कियों की जानकारी कोंट्रेक्ट ट्रेसिंग टीम को प्रदान कराने में सहयोग करें, जिससे उन्हें ट्रैक कर उनकी कोरोना जांच कराई जा सके.

सीएमओ ने अपील की है कि कोरोना के नए वैरिएंट से घबराने की आवश्यकता नहीं है. इसके बचाव के लिए मास्क लगाना, दो गज दूरी और हाथों को बार-बार सैनिटाइज करना न भूलें. इसके साथ ही कोविड टीकाकरण जरूर कराएं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.