Chhath Puja 2022: इन गानों के बिना अधूरा है महापर्व छठ, सोनू निगम और शारदा सिन्हा जैसे गायकों ने दी है अपनी आवाज़

सामाजिक ताने-बाने से बुने गए छठ पर्व के गीतों के अंदर लोक-जीवन की झांकी व जिंदगी का अर्थशास्त्र है. इन गीतों में हम गूढ़ अभिव्यक्ति के दर्शन कर सकते हैं. महापर्व छठ के शुरू होने के साथ ही होने वाली पूजा के लिए घाटों को साफ किया जा रहा है तथा घरों व स्थानीय कॉलोनियों में छठ के गीत बजने शुरू हो जाते हैं.

इन गायकों ने गाए हैं छठ के गाने

अनुराधा पौडवाल, शारदा सिन्हा, दिनेश लाल यादव और सोनू निगम जैसे प्रसिद्ध गायकों ने पिछले कुछ वर्षों में कई छठ गीतों को अपनी भावपूर्ण आवाज दी है, जो सूर्य देवता और छठी देवी को समर्पित है. यहां हम आपके लिए छठ पूजा के कुछ लोकप्रिय गीत लेकर आए हैं जो आपको त्योहार का असली सार बताएंगे-

1. “उगा हे सूरज देव”

गायिका अनुराधा पौडवाल की संगीत और गीतों के माध्यम से जादू बुनने की क्षमता भारतीय संगीत उद्योग में अद्वितीय है. उनका यह छठ गीत ‘उगा हे सूरज देव’ इस बात का प्रमाण है.

2. “केलवा के पात पर”

लोकप्रिय गायिका शारदा सिन्हा द्वारा गाया गया, ‘केलवा के पात पर’ छठ पूजा का व्रत रखने वाले और सूर्य भगवान से प्रार्थना करने वाले एक भक्त के इर्द-गिर्द घूमता है.

3. “कांच ही बांस के बहंगिया”

अनुराधा पौडवाल की ‘कांच ही बांस के बहंगिया’ को मुख्य रूप से घाट पर और घर पर भी महिलाओं द्वारा गाया जाता है. इस गाने के बोल काफी आकर्षक हैं.

4. “पहिले पहिल छठी मैया”

गायिका शारदा सिन्हा छठ पूजा समारोह को अपने गीतों से और खूबसूरत बनाती हैं. छठ पूजा के दौरान लोगों द्वारा सबसे ज्यादा बजाया जाने वाला गीत ‘पहिले पहिल छठी मैया’ है.

5. “जय छठी मैया”

गायक सोनू निगम ने ट्रेडीशनल ट्रैक पर भी हाथ आजमाया है. 2021 में वे पवन सिंह और खुशबू जैन के साथ छठ गीत ‘जय छठी मैया’ के साथ वापस आए.