वैशाख मास: सूर्योदय से पहले करें ये काम, दूर होंगी कई बीमारियां

वैशाख के महीने में 12 दिन और शेष बचे हैं. अंग्रेजी महीने के अनुसार, 16 मई को वैशाख का आखिरी दिन होगा. वेद पुराण बताते हैं कि वैशाख के महीने में खानपान और डेली रूटीन में बदलाव करने से सेहत अच्छी बनी रहती है. साथ ही बहुत सारी बातें ऐसी होती हैं. जिसका विशेष ध्यान रखना होता है, जैसे- खाना, पीना, सोना आदि. यदि हम हिंदू ग्रंथों में बताई गई बातों को अपनाएं तो सेहत भी बनी रहती है और उम्र भी बढ़ती है.

पुरी के ज्योतिषाचार्य डॉ० गणेश मिश्र बताते हैं कि वैशाख के दिनों में सूर्योदय से पहले उठकर नहाना अत्यंत लाभदायक होता है. स्कंद पुराण के अनुसार, वैशाख का महीना सभी महीनों में उत्तम है. पुराणों में कहा गया है कि जो व्यक्ति इस महीने में सूर्योदय से पहले स्नान करता है. सूर्य को अर्घ्य देता है और व्रत रखता है. वह कभी बीमार नहीं होता. उस पर भगवान की कृपा हमेशा बनी रहती है और उसे सभी दुखों से मुक्ति भी मिलती है.

वैशाख महीने में क्या करें

1. वैशाख मास में जल दान का विशेष महत्व है. यदि संभव हो तो इन दिनों में प्याऊ लगवाएं या किसी प्याऊ में मटके का दान करें.
2. किसी जरुरतमंद व्यक्ति को पंखा, खरबूजा, अन्य फल, अन्न आदि का दान करना चाहिए.
3. मंदिरों में अन्न और भोजन दान करना चाहिए.
4. इस महीने में ब्रह्मचर्य का पालन और सात्विक भोजन करना चाहिए.
5. वैशाख महीने में पूजा और यज्ञ करने के साथ ही एक समय भोजन करना चाहिए.

क्या नहीं करें

1.इस महीने में मांसाहार, शराब और अन्य हर तरह के नशे से दूर रहें.
2. वैशाख माह में शरीर पर तेल मालिश नहीं करवानी चाहिए.
3. दिन में नहीं सोना चाहिए
4. कांसे के बर्तन में खाना नहीं खाना चाहिए.
5. रात में भोजन नहीं करना चाहिए और पलंग पर नहीं सोना चाहिए.