योगी आदित्यनाथ के तिलक से पहले 27 हजार मंदिरों में हुई पूजा-अर्चना, साधु संतो ने की साधना

उत्तर प्रदेश सरकार के मुखिया के तौर पर दूसरी बार योगी आदित्यनाथ आज शपथ लेंगे. इससे पहले भाजपा कार्यकर्ताओं ने प्रदेश भर के 27 हजार मंदिरों में हवन-पूजन किया. उधर काशी,मथुरा,अयोध्या और प्रयागराज स्थित मठों-अखाड़ों में रहने वाले साधु-संतों ने भी मंगलाचरण पाठ किया. साधु संत नई सरकार के गठन के लिए योगी आदित्यनाथ को शुभकामनाएं भी दे रहे हैं.

योगी के लिए मांगा बाबा विश्वनाथ और मां गंगा से आशीर्वादशपथ ग्रहण के पहले नमामि गंगे संस्था से जुड़े लोगों ने भी पूजा की. उन्होंने श्री काशी विश्वनाथ धाम के नए बने गंगा द्वार पर पीएम मोदी और सीएम योगी की तस्वीर लेकर मां गंगा और महादेव की आरती उतारी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में देश और उत्तर प्रदेश के विकास के लिए आशीर्वाद मांगा.

हर हर महादेव और घंटा-घड़ियाल की आवाज से गंगा घाट का परिसर गूंज उठा. इस मौके पर गंगा किनारे की सफाई कर स्वच्छता को संस्कार के रूप में अपनाने का अपील की गई.

नमामि गंगे काशी क्षेत्र के संयोजक राजेश शुक्ला ने कहा कि गंगा द्वार से बाबा विश्वनाथ और मां गंगा की आरती उतारकर हमने राष्ट्र और उत्तर प्रदेश के लिए सुख और समृद्धि की कामना की है.

राजेश ने कहा कि योगीराज 2.0 में यूपी और अधिक विकास करेगा. उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाने के लिए दृढ़ संकल्प के मोती निरंतर सजते रहें, इसके लिए हमने मां गंगा से आशीर्वाद मांगा है.

बाबा कालभैरव और बाबा विश्वनाथ के यहां प्रार्थनाकाशी के कोतवाल बाबा काल भैरव और जगत के नाथ बाबा विश्वनाथ के दरबार में योगी सरकार के शपथ ग्रहण से पहले विशेष अनुष्ठान किया जा रहा है. कानून व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त रहे और विपक्षी हावी न होने पाएं, इसके लिए विशेष प्रार्थना भी की जा रही है.

उधर उत्तर वाहिनी गंगा के तट के साथ ही काशी के सभी प्रमुख देवालयों और शिवालयों में योगी सरकार की सफलता के लिए आराधना कर हवन-पूजन का सिलसिला शुरू हो गया है.

मथुरा के मंदिरों में बजे घंटे-घड़ियाल

योगी सरकार की दूसरी पारी की शुरुआत से पहले मथुरा के मंदिरों में घंटे-घड़ियाल बजाए गए. श्री कृष्ण जन्मस्थान सेवा संस्थान के सचिव कपिल शर्मा ने बताया कि जब शपथ ग्रहण होगा, उस समय भी मंदिर में विभिन्न धार्मिक आयोजन होंगे. इसके अलावा शाम को दीपदान और भव्य सजावट की जाएगी.

भगवान श्री कृष्ण के पिता नंदबाबा की नगरी नंदगांव में भी योगी सरकार की दूसरी पारी शुरू करने पर घंटे-घड़ियाल बजाए जा रहे हैं. मंदिर के सेवायत सुशील गोस्वामी ने बताया कि सुबह घंटे-घड़ियाल बजे और शाम को घी के दीपक जलेंगे. बरसाना स्थित श्री जी मंदिर के रिसीवर संजय गोस्वामी ने बताया कि योगी आदित्यनाथ के दोबारा मुख्यमंत्री बनने से ब्रज का और अधिक विकास होगा. सनातन संस्कृति को बढ़ावा मिलेगा.

मंत्री बनने वाले नेता आएंगे अयोध्या

यूपी सरकार के शपथ ग्रहण समारोह के बाद मंत्री बनने वाले नेता अयोध्या के मंदिरों में दर्शन पूजन के लिए आएंगे. इसके लिए 50 कुंतल प्रसाद , दो हजार रामनामा, 5 हजार माला और 500 राम मंदिर के मॉडल सुरक्षित रखे गए हैं.रामलला के दरबार, हनुमानगढ़ी व रामवल्लभाकुंज सहित प्रमुख मंदिरों को भव्य रूप से सजाया जा रहा है. खुद योगी आदित्यनाथ दूसरी बार मुख्यमंत्री बनने के बाद रामलला व हनुमानगढ़ी का दर्शन करने अयोध्या आएंगे.